इन तीन देशों में मची IPL करवाने की होड़, जानिये किसकी लगेगी लॉटरी

आईपीएल से होने वाली मोटी कमाई को देखते हुए कई देशों में इसे होस्ट करने की प्रतियोगिता शुरू हो गयी है. हर देश अपने यहां दुनिया की सबसे मनोरंजन लीग आयोजित करने के पक्ष में दलील दे रहा है.

Written by - Adarsh Dixit | Last Updated : May 9, 2021, 05:45 PM IST
  • इंग्लैंड भी रख चुका है प्रस्ताव
  • बीसीसीआई की पहली पसंद है UAE
इन तीन देशों में मची IPL करवाने की होड़, जानिये किसकी लगेगी लॉटरी

नई दिल्ली: कोरोना संक्रमण के चलते बीसीसीआई ने आईपीएल के 14 वें संस्करण को बीच में ही स्थगित कर दिया है. माना जा रहा है कि इसका बचा हुआ सीजन इसी साल टी-20 विश्वकप से पहले सितंबर में आयोजित किया जा सकता है. 

आईपीएल से होने वाली मोटी कमाई को देखते हुए कई देशों में इसे होस्ट करने की प्रतियोगिता शुरू हो गयी है. हर देश अपने यहां दुनिया की सबसे मनोरंजन लीग आयोजित करने के पक्ष में दलील दे रहा है.

श्रीलंका ने भी दिया प्रस्ताव

श्रीलंका क्रिकेट की मैनेजिंग समिति के प्रमुख अर्जुन डे सिल्वा ने कहा कि हम हमारे यहां शेष आईपीएल सीजन की मेजबानी करना चाहते हैं. दरअसल भारत और श्रीलंका का समय एक जैसा है और पल्लेकेले, कोलंबो में मैच आयोजित हो सकते हैं. 

हालांकि क्रिकेट के रोमांच को देखते हुए श्रीलंका का दावा कुछ कमजोर पड़ जाता हैं क्योंकि इस साल कोई भी लंकाई खिलाड़ी आईपीएल का हिस्सा नहीं है.

अरविंद डिसिल्वा का कहना है कि हम जुलाई-अगस्त में लंका प्रीमियर लीग के आयोजन की योजना बना रहे हैं और सितंबर में आईपीएल 2021 के सीजन के लिए मैदान तैयार हो जाएंगे.

इंग्लैंड भी रख चुका है प्रस्ताव

आईपीएल कराने के लिए इंग्लैंड भी आगे आया है. उसकी 3 काउंटीज़ ने ECB से अनुरोध किया है कि आईपीएल होस्ट करने का प्रस्ताव बीसीसीआई के सामने रखना चाहिए. 

इंग्लैंड के पक्ष में एक बात ये है कि भारतीय टीम को जून से लेकर सितंबर तक इंग्लैंड में ही रहना है और उसके बाद टी 20 विश्वकप खेलना है लेकिन बड़ी बात ये है कि बायो बबल को बरकरार रखने में वहां मुश्किल हो सकती है. 

इंग्लैंड में एक स्टेडियम की दूसरे स्टेडियम से दूरी UAE और श्रीलंका से ज्यादा है. ऐसे में बायो बबल टूटने का खतरा वहां रह सकता है.

इंग्लैंड की आधी से ज्यादा जनता को कोरोना वैक्सीन सितंबर तक लग जाने की उम्मीद है. इससे वहां कोरोना की भयावहता कुछ कम होगी. ये इंग्लैंड के बोर्ड का तर्क है और उनका कहना है कि इससे आईपीएल बिना कोरोना के खतरे के आसानी से पूरा कराया जा सकता है.

बीसीसीआई की पहली पसंद है UAE

संयुक्त अरब अमीरात यानी यूएई में आईपीएल का पिछला संस्करण सफलतापूर्वक आयोजित किया जा चुका है. बीसीसीआई ने टी 20 वर्ल्ड कप भी वहीं कराने का मन बनाया है लेकिन इसकी अभी घोषणा नहीं हुई है. UAE में तीन मैदान हैं और तीनों करीब हैं.

ये भी पढ़ें- Haryana: रेवाड़ी जेल से फरार हुए 13 कोरोना संक्रमित कैदी

सितंबर में आईपीएल कराने के बाद खिलाड़ी सीधे बिना किसी यात्रा के वर्ल्डकप के बायो बबल में अपनी टीम के साथ जुड़ जाएंगे और खिलाड़ियों को 7 दिन क्वारन्टीन भी नहीं होना पड़ेगा. 

आईपीएल और उसके बाद टी 20 वर्ल्डकप करवाने से सभी देशों के खिलाड़ियों को बेवजह यात्रा से बचाया जा सकता है. UAE में आईपीएल कराने के पीछे एक ये भी दलील 
दी जा रही है कि वहां ICC की भी मौजूदगी है उसे विश्वकप मैनेज करने में परेशानी नहीं होगी. 

सभी विदेशी और देशी खिलाड़ी पहले सितंबर में आईपीएल में हिस्सा लेंगे और बायो बबल में रहते हुए ही अक्टूबर नवम्बर में टी 20 वर्ल्डकप खेल सकते हैं.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़