FIFA World Cup 2022: पेनाल्टी शूटआउट में हारा जापान, क्रोएशिया ने 3-1 से जीत हासिल कर बनाई क्वार्टरफाइनल में जगह

FIFA World Cup 2022: कतर में खेले जा रहे फीफा विश्वकप के प्री-क्वार्टर फाइनल मैच में जापान की टीम ने जबरदस्त तरीके का खेल दिखाया और आखिरी समय तक खिताब के एक कदम और करीब पहुंचने का दम दिखाया लेकिन पेनाल्टी शूटआउट में उसे हार का सामना करना पड़ा.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 6, 2022, 07:45 AM IST
  • शूटआउट में जीती क्रोएशिया
  • एक्सट्रा टाइम में लगातार अच्छा कर रही है क्रोएशिया
FIFA World Cup 2022: पेनाल्टी शूटआउट में हारा जापान, क्रोएशिया ने 3-1 से जीत हासिल कर बनाई क्वार्टरफाइनल में जगह

FIFA World Cup 2022: कतर में खेले जा रहे फीफा विश्वकप के प्री-क्वार्टर फाइनल मैच में जापान की टीम ने जबरदस्त तरीके का खेल दिखाया और आखिरी समय तक खिताब के एक कदम और करीब पहुंचने का दम दिखाया लेकिन पेनाल्टी शूटआउट में उसे हार का सामना करना पड़ा. क्रोएशिया के गोलकीपर डोमिनिक लिवाकोविच ने फुटबॉल विश्व कप के प्री-क्वार्टर फाइनल में जापान के खिलाफ पेनाल्टी शूटआउट में शानदार खेल दिखाते हुए सोमवार को यहां तीन गोल बचाये और अपनी टीम को अंतिम आठ में पहुंचाने में अहम योगदान दिया. नियमित समय में स्कोर 1-1 से बराबर रहा. इसके बाद अतिरिक्त समय में भी दोनों टीमें गोल करने में विफल रही. 

शूटआउट में जीती क्रोएशिया

पेनाल्टी शूटआउट में क्रोएशिया ने जापान को 3-1 से शिकस्त दी. क्रोएशिया की ओर से निकोला व्लासिच, मार्सेलो ब्रोजोविच और मारियो पसालिच गोल करने में सफल रहे तो वहीं जापान के लिए सिर्फ ताकुता असानो ही गोल कर सके. टीम के लिए तुकामि मिनामिनो, कौरु मितोमा और माया योशिदा गोल करने में विफल रहे. क्रोएशिया के लिए मार्को लिवाजा गोल करने से चूक गये. पिछले विश्व कप के दौरान क्रोएशिया की टीम तीन बार अतिरिक्त समय तक चले मैचों को जीती थी और 2018 की उपविजेता ने एकबार फिर ऐसे मैचों में अपनी बादशाहत कायम की. 

एक्सट्रा टाइम में लगातार अच्छा कर रही है क्रोएशिया

यूरो और विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंटों के नॉकआउट चरण में अतिरिक्त समय तक चले पिछले आठ मैच में टीम की यह सातवीं जीत है. जापान को पहले हाफ में 43वें मिनट में डेजेन माइडा ने गोलकर बढ़त दिलायी थी. टीम को मिले शॉर्ट कॉर्नर पर रित्सू डोन ने योशिदा को पास दिया और गेंद योशिदा के हेडर से माइडा के पास पहुंची और उन्होंने गोल करने में कोई गलती नहीं की. क्रोएशिया ने हालांकि मध्यांतर के बाद 55वें मिनट में स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया. लोवरेन के पास पर इवान पेरिसिच ने हेडर से गोल कर मैच में टीम की वापसी करायी. ग्रुप चरण में स्पेन और जर्मनी जैसी टीमों को हराने वाले ने इस मुकाबले में आक्रामक शुरुआत की. टीम ने शुरुआती तीन मिनट में दो प्रयास किया लेकिन क्रोएशिया की रक्षापंक्ति सजग थी. 

माइदा के गोल से जापान ने बनाई बढ़त

इसके बाद क्रोएशिया ने लय हासिल करा शुरू किया और टीम आठवें मिनट में बढ़त हासिल करने के करीब पहुंच गयी थी लेकिन जापान के गोलकीपर सुइजी गोंडा ने शानदार बचाव किया. ताकेहिरो तोमियासु की गलती का फायदा उठाते हुए पेरिसिच ने गेंद को गोल पोस्ट की ओर मारा लेकिन गोंडा ने एक बार फिर अच्छा बचाव किया. टूर्नामेंट में अब तक क्रोएशिया की रक्षापंक्ति ने शानदार खेल दिखाया था और जापान के खिलाफ टीम ने आक्रामक रवैया अपनाते हुए बॉक्स में क्रॉसों की झड़ी लगा दी. इस दौरान  पेरिसिच के हेडर को जापान के खिलाड़ियों ने रोक दिया. इसके बाद  पेटकोविच भी अच्छी स्थिति में होने के बाद मौका गंवा बैठे. मैच के 41वें मिनट में इटो जवाबी हमले के साथ क्रोएशिया के हाफ में पहुंचे लेकिन उनके बनाये मौके पर कामदा गेंद को नेट के ऊपर से मार बैठे.  इसके बाद रित्सु डोन ने योशिदा के शानदार क्रॉस दिया जिस पर  माइदा ने गोल कर जापान को बढ़त दिला दी. 

मेस्सी-एमबापे की खास लिस्ट में शुमार हुए पेरिसिच

मध्यांतर के बाद  55वें मिनट में पेरिसिच ने गोल कर स्कोर को बराबर कर दिया. मौजूदा विश्व कप में पेरिसिच का यह पहला गोल था जबकि इस टूर्नामेंट के इतिहास में यह उनका छठा गोल है . उन्होंने इस दौरान चार गोल में मदद भी की है. उनसे ज्यादा गोल और मदद करने के मामले में  केवल लियोनेल मेस्सी (12) और किलियन एमबापे (11) का नाम है. बराबरी का गोल दागने के बाद क्रोएशिया का आत्मविश्वास बढ़ा हुआ था और मैच के 63वें मिनट में टीम के दिग्गज लुका मोड्रिच के दमदार प्रयास पर जापान के गोलकीपर ने शानदार बचाव किया. अब जापान की टीम मैच की गति बढ़ा रही थी लेकिन उसके खिलाड़ी गेंद को अपने पास बनाये रखने में सफल नहीं हो रहे थे. मैच के आखिरी मिनट में मातेओ कोवासिच को इतो से भिड़ने पर  रेफरी ने पीला कार्ड दिखाया. यह इस मैच का पहला पीला कार्ड था. नियमित समय में खेल बराबरी पर छूटने पर अतिरिक्त समय में जापान ने पहला कॉर्नर हासिल किया लेकिन टीम इसका फायदा नहीं उठा सकी. मैच के 94वें मिनट में मितामो गेंद को लेकर क्रोएशिया के हाफ में घुसे और गेंद असानो की ओर बढ़ा दी, लेकिन उन्होंने मौका गंवा दिया. 

पेनाल्टी शूटआउट में चमके क्रोएशियाई गोलकीपर

मैच के 98वें मिनट में क्रोएशिया ने दो बदलाव किया कप्तान मोड्रिच की जगह लोवरो माजेर और कोवासिच की जगह वालसिच मैदान में उतरे . मैच के 105वें मिनट में मितोवा ने टीम के हाफ में गेंद को टैकल करने के बाद क्रोएशिया के खिलाड़ियों को छकाते हुए आगे बढ़े लेकिन उनके तेजतर्रार शॉट को गोलकीपर ने रोक लिया. इसके दो मिनट के बाद टीम में एक और मौका बनाया लेकिन असानो एक बार फिर चूक गये. अतिरिक्त समय के मध्यांतर के बाद क्रोएशिया के खिलाड़ियों ने अपनी लंबाई का फायदा उठाने के लिए गेंद का हवा में खेलना शुरू किया लेकिन इसका फायदा नहीं मिला मैच के 111वें मिनट पर कोरिसिच ने कॉर्नर पर गोल करने का मौका बनाया लेकिन गोंडा ने गेंद को बॉक्स से बाहर भेज दिया. इसके बाद जुरानोविच ने थ्रो इन पर प्रयास किया लेकिन गोंडा ने इसका अच्छा बचाव किया और फिर जापान ने जवाबी हमला किया लेकिन सफलता नहीं मिली. मैच के आखिरी स्टॉपेज टाइम में लोवारो मेजर को मौका मिला लेकिन उनका शॉट गोल से दूर निकल गया. 

इसे भी पढ़ें- PKL 9: सेमीफाइनल में पहुंचने वाली दूसरी टीम बनी जयपुर, हरियाणा को हराकर फिर किया टॉप पर कब्जा

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़