घरेलू क्रिकेट की गेंदबाजी के शहंशाह ने लिया संन्यास

37 वर्षीय विनय कुमार ने भारत के लिये अंतिम एकदिवसीय मैच 2 नवंबर 2013 को खेला था. उन्होंने अपनी कप्तानी में कर्नाटक को दो बार रणजी विजेता भी बनाया है. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Feb 26, 2021, 07:05 PM IST
  • पूरे करियर में चटकाए 972 विकेट
  • भारत की ओर से 31 वनडे मैच खेले
  • आखिरी मैच 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला
घरेलू क्रिकेट की गेंदबाजी के शहंशाह ने लिया संन्यास

बेंगलुरू: घरेलू क्रिकेट के अनुभवी तेज गेंदबाज आर विनय कुमार (R Vinay Kumar) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है. विनय कुमार ने भारत के लिये भी कई मैच खेले हैं. विनय कुमार घरेलू क्रिकेट के सबसे धारदार गेंदबाज माने जाते थे. उन्होंने सर्वाधिक 972 विकेट लिये हैं जो अद्वितीय और विलक्षण उपलब्धि है. 

37 वर्षीय विनय कुमार ने भारत के लिये अंतिम एकदिवसीय मैच 2 नवंबर 2013 को खेला था.  विनय कुमार (R Vinay Kumar) ने अपनी कप्तानी में कर्नाटक को दो बार रणजी विजेता भी बनाया है. 

पूरे करियर में चटकाए 972 विकेट 

विनय कुमार का घरेलू क्रिकेट में वहीं स्थान था जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर का है. विनय कुमार ने हर प्रकार के फार्मेट में कुल मिलाकर 972 विकेट झटके हैं. ये उपलब्धि हासिल करने वाले वे इकलौते खिलाड़ी है. कर्नाटक के इस गेंदबाज ने 139 फर्स्टक्लास मैच खेलते हुए 504 विकेट चटकाए हैं और उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 32 रन देकर 8 विकेट रहा. नवंबर 2004 में विनय कुमार ने फर्स्टक्लास क्रिकेट डेब्यू किया था. 

भारत के लिये ऐसा रहा सफर

आपको बता दें कि विनय कुमार ने भारत की ओर से 31 वनडे मैच खेले और 38 विकेट हासिल किये. 5.96 की इकनॉमी रेट के साथ गेंदबाजी की है. उनका सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन 30 रन खर्च करके 4 विकेट है. विनय कुमार ने भारत के लिये एक टेस्ट भी खेला है. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इकलौते मैच में एक विकेट अपने नाम किया था. इसके अलावा उन्होंने 9 टी-20 मैच में 7.84 इकनॉमी रेट के साथ 10 विकेट अपने नाम किये हैं. विनय ने 105 आईपीएल मैच खेले हैं और 105 विकेट भी झटके हैं. 

ये भी पढ़ें- IPL में सबसे तेज शतक लगाने वाले भारतीय खिलाड़ी ने लिया संन्यास

विनय कुमार भारत के लिये आखिरी मैच 2 नवंबर 2013 को बंगलुरू में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था. इसके अलावा आईपीएल में उन्होंने आखिरी बार 2018 में शिरकत की थी. 

आखिरी वनडे में बहुत महंगे रहे थे विनय कुमार

आपको बता दें कि टीम इंडिया की जर्सी में वह आखिरी बार नवंबर 2013 में मैदान पर उतरे थे. आखिरी वनडे मैच में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 9 ओवरों में एक विकेट लेकर 102 रन चुकाए थे. बेंगलुरु में खेले गए उसी मैच में ओपनर रोहित शर्मा ने अपने वनडे करियर का पहला दोहरा शतक जड़ा था. 

रोहित शर्मा के दोहरे शतक की बदौलत भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया को 57 रनों से हराने में कामयाब रही थी.  इस मैच के बाद विनय कुमार एकदिवसीय मैच में सबसे अधिक रन खर्च करने वाले खिलाड़ी बने थे. 

संन्यास लेने के बाद कही ये बात

संन्यास लेते समय विनय कुमार ने अपने बयान में कहा कि वह भाग्यशाली रहे कि उन्हें अपने करियर में सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली जैसे खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिला. उन्होंने बयान में कहा कि आज ‘दवंगेरे एक्सप्रेस’ 25 साल दौड़ने और क्रिकेटिया जिंदगी के इतने सारे स्टेशन पास करने के बाद उस स्टेशन पर आ गयी है जिसे ‘संन्यास’ कहते हैं. 

इतनी सारी भावनाओं के साथ मैं विनय कुमार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से अपने संन्यास की घोषणा करता हूं. उन्होंने ट्विटर पर अपने बयान में कहा कि यह फैसला करना आसान नहीं था, हालांकि हर खिलाड़ी की जिंदगी में ऐसा समय आता है जब उसे संन्यास लेना पड़ता है. 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप. 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़