• भारत में कोरोना के अब तक 918 मामले सामने आए, अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है, 79 लोगों का सफल इलाज हुआ
  • कोरोना के सबसे ज्यादा मामले केरल और महाराष्ट्र में सामने आ रहे हैं, केरल में 167 और महाराष्ट्र में 186 लोग कोरोना प्रभावित
  • पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के 6,61,367 मामले सामने आ चुके हैं
  • कोरोना वायरस के कारण विश्व में अब तक 30,671 लोगों की मौत हो चुकी है, जबिक 1,41,464 लोग बचाए जा चुके हैं
  • कर्नाटक में कोरोना से प्रभावित लोगों की संख्या 76 पहुंच गई है. पिछले 22 घंटे में 12 नए मामले सामने आए हैं
  • उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल 61 मामले, शनिवार को 11 मामले सामने आए जिसमें सबसे ज्यादा 9 मामले नोएडा में दिखे
  • महाराष्ट्र में कोराना वायरस के 9 नए मामले, मुंबई में 8 और नागपुर में 1 नया मरीज, कुल मामले 167 हुए
  • कोरोना वायरस से अबतक महाराष्ट्र में 5, गुजरात में 3, कर्नाटक में 2, मध्य प्रदेश में 2 लोगों की मौत हो चुकी है
  • तमिलनाडु, बिहार, पंजाब, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, कश्मीर और हिमाचल में एक-एक मौतें हो चुकी हैं.

कोरोना लॉकडाउन के दौरान घर पर रहकर बोर हो गए हैं तो आजमाएं ये तरीके

कोरोना ने दुनिया को घरों तक समेट दिया है. ज्यादातर देशों को लॉकडाउन कर दिया गया है और लोगों को घरों के अंदर रहने की हिदायत दी गई है. ऐसे में काफी लोग आपको ये कहते मिल जाएंगे कि घर में हम बोर हो रहे हैं. दिन काटना मुश्किल हो रहा है. तो हम आपको बताते हैं इन 21 दिनों में आप क्या क्या कर सकते हैं.

कोरोना लॉकडाउन के दौरान घर पर रहकर बोर हो गए हैं तो आजमाएं ये तरीके

नई दिल्ली: हमारे देश में भी 21 दिन का लॉकडाउन लागू है...WFH यानी वर्क फ्रॉम होम वाले तो घरों से ऑफिस का काम निपटा रहे हैं. लेकिन जो लोग पूरी तरह छुट्टी पर हैं. उनके लिए दिन काटना मुश्किल हो रहा है. 

शरीर को दीजिए समय
भागदौड़ और ऑफिस की व्यस्तता के बीच अक्सर लोग अपने शरीर को लेकर लापरवाह रहते हैं. ये अच्छा समय है, अपनी बॉडी को डिटॉक्सिफाई यानी विकार मुक्त करने का. शरीर में आई स्टिफनेस को दूर कर आप उसे लचीला बनाने के लिए योग करें. अगर आप योग कर रहे हैं तो कुछ नए आसन आजमा सकते हैं. अगर आदत नहीं है तो 21 दिन के बाद यकीन मानिए आपकी योग की आदत बन जाएगी और आप भविष्य में नियम पूर्वक योग करने लगेंगे.

ध्यान लगाने का करें अभ्यास

लॉकडाउन के दौरान मेडिटेशन करें. कैसे करना है उसकी जानकारी आपको इंटरनेट पर मिल जाएगी. वैसे ज्यादा कुछ नहीं आंख बंद कर किसी एक बिंदु पर ध्यान लगाएं और एक एक सांस को महसूस करें. अगर आप ध्यान लगाते हैं तो यकीन मानिए ये आपको नई ज़िंदगी दे सकता है.

किचन में नई रेसिपी ट्राई करें
अगर आपको कुकिंग का शौक है तो आप कुछ नई रेसिपी ट्राई कर सकते हैं. काफी साइट्स ऐसी हैं जो आपको नई नई रेसिपी की जानकारी देती हैं. उन साइट्स से टिप्स लेकर आप कुछ नया ट्राइ कर सकते हैं. साउथ इंडियन, गुजराती, महाराष्ट्रियन, नॉर्थ इंडियन के अलावा आप गांव की देसी चटनी तक बनाने की कोशिश कर सकते हैं.

अगर आप मां के पास हैं तो उनसे कुछ ऐसी डिश सीख सकते हैं जिसकी तारीफ आप हमेशा करते रहे लेकिन उसकी रेसिपी नहीं मालूम थी.

किताबों में लगाइए ध्यान
क्या आपको याद है आपने आखिरी किताब कब पढ़ी. काफी लोग होंगे जिन्हें शायद नहीं होगा. तो ये 21 दिन आपको वो मौका दे रहे हैं. उठाइए अपनी मनपसंद किताबें और पढ़ डालिए इन 21 दिनों में.

महापुरुषों की जीवनी से लेकर फिक्शन तक ढेरों विकल्प हैं आपके सामने.

थोड़ी बागवानी हो जाए
इन 21 दिनों में आप पौधों के साथ समय बिताएं. यकीन मानिए बहुत कुछ नया सीखने को मिलेगा और सुकून भी मिलेगा. गुड़ाई, कांटछांट, खाद देना, गमलों की सफाई, रोज पानी देना बहुत सारे काम हैं जो आप करेंगे तो आनंद मिलेगा.

लॉकडाउन में देखें फिल्में
ऑफिस की व्यस्तता में कई फिल्में चाहते हुए भी आप नहीं देख पाए होंगे. कई पुरानी फिल्में देखने की भी हसरत दिल में होगी जो समय के चलते पूरी नहीं हो पा रही होगी. तो लॉकडाउन ने आपको अपनी हसरत पूरा करने का मौका दिया है उसे गंवाइए मत. लिस्ट बनाइए और परिवार के साथ इन फिल्मों को इन्जॉय कीजिए.

लिखने का अच्छा समय
शायद ही किसी ने सोचा होगा कि कोरोना जैसी महामारी लोगों को घरों में कैद कर देगी. शहर वीरान हो जाएंगे. ये ज़िंदगी का अनूठा अनुभव है इसे डॉक्यूमेंट करें यानी कागजों पर उतारें, ताकि आने वाली पीढ़ी उससे कुछ सीख सके. इसके अलावा आप कहानी, कविताएं भी लिख सकते हैं. 

घर की सफाई
अपनी बुकशेल्फ, कपड़ों की वॉर्डरोब को व्यवस्थित करने उसकी साफ सफाई करने का बढ़िया मौका है. सफाई के दौरान आपकी कई पुरानी यादें ताज़ा होंगी जो होठों पर निश्चित ही मुस्कान ला देगी. घर का कोना कोना चमकाने के लिए भी समय समय ही है.

कोरोना को देखते हुए सफाई ज़रूरी भी है.

पुराने मित्रों से बात कर लें
स्कूल के दोस्त जिनसे बरसों से आपने बात नहीं की उन्हें कॉल कर आप सरप्राइज़ दे सकते हैं. पुराने दोस्तों से बात करने पर आप रिलैक्स महसूस करेंगे. पुरानी यादें ताज़ा करने का ये अच्छा मौका है. कुछ दोस्तों को फेसबुक पर ढूंढ कर उन्हें भी सरप्राइज़ दे सकते हैं.

कुछ नया सीख लें
कभी जोश में आपने कोई म्यूज़िकल इन्स्ट्रुमेंट खरीदा लेकिन समय नहीं होने और आलस के चलते वो शोपीस बन कर रह गया. उस पर से कवर हटाइए और साफ करके हाथ साफ कीजिए. इन्स्ट्रुमेंट बजाना सीखिए. ये काफी रिलैक्सिंग होगा. इसके अलावा आप वीडियो एडिटिंग के बेसिक्स सीख सकते हैं. इसके अलावा आप पेंटिंग, स्कल्पचर में हाथ आज़मा सकते हैं.

तो जीवन के इन अमूल्य 21 दिन को आप घर में रहते हुए यादगार बना सकते हैं. लेकिन घर में रह कर करना ज़रूरी है क्योंकि घर के बाहर करोना है.