• पूरे देश में कोरोना वायरस के कुल सक्रिय मामले अभी तक 4312 हैं, अभी तक 124 लोगों की मृत्यु हुई, 353 लोग इलाज के बाद ठीक हुए
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना मरीजों की देखभाल के लिए अस्पताल और अन्य सुविधाओं को तीन भागों में बांटा.
  • भारतीय रेलवे अपने डॉक्टरों और चिकित्साकर्मियों की सुरक्षा के लिए हर रोज एक हजार पीपीआई किट का निर्माण करेगी
  • कोरोना से निपटने के लिए राहत कार्यों में योगदान देने के लिए पूर्व सैनिकों ने स्वैच्छिक सेवाएं प्रदान की
  • लॉकडाउन के बीच जहाजों का आवागमन होगा, पोत परिवहन मंत्रालय ने सुनिश्चित किया
  • सरकार के दीक्षा ऐप पर कोरोना से जूझने वालों के लिए इंटीग्रेटेड ऑनलाइन गवर्नमेन्ट ट्रेनिंग यानी IGOT कोर्स लाया गया है
  • पूरी दुनिया में कोरोना वायरस की चपेट में 1,428,428, अब तक कुल 82,020 की मौत हो चुकी है. 3,00,198 मरीज ठीक भी हुए.
  • राज्यों में कुल कोरोना संक्रमण- महाराष्ट्र में 1161, तमिलनाडु में 690, दिल्ली में 606, तंलंगाना में 404, केरल में 336
  • उत्तर प्रदेश में 332 राजस्थान में 343, आंध्र में 324, मध्य प्रदेश में 280, कर्नाटक में 204, गुजरात में 168

कोरोना के खिलाफ युद्ध में मोदी सरकार का 'ब्रह्मास्त्र'! देश को सबसे बड़ा तोहफा

सबसे बड़ी आपदा से निपटने के लिए मोदी सरकार ने सबसे बड़ा पैकेज की घोषणा की है. लॉकडाउन से गरीबों की परेशानी ज्यादा ना बढ़े इसके लिए बड़े तोहफे का ऐलान किया गया है. इस राहत में किसके लिए क्या-क्या है इस खास रिपोर्ट में जानिए.

कोरोना के खिलाफ युद्ध में मोदी सरकार का 'ब्रह्मास्त्र'! देश को सबसे बड़ा तोहफा

नई दिल्ली: कोरोना वायरस की वजह से पूरी दुनिया जूझ रही है. भारत भी कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर चिंतित है. कोरोना वायरस की वजह से अब तक देश में 15 लोगों की मौत हो गई है और 6 सौ से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं और ये संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. 

कोरोना 'काल' में मोदी सरकार का महा पैकेज

सरकार ने 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान किया है लेकिन इससे उन लोगों की परेशानी बढ़ गई है जो कि गरीब हैं या प्रतिदिन काम करके कमाने वाले मजदूर हैं. ऐसे में देश की बिगड़ती अर्थव्यवस्था को राहत देने के लिए मोदी सरकार ने बड़ा ऐलान किया है. आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रभावित लोगों के लिए 1.70 लाख करोड़ के स्पेशल पैकेज का ऐलान किया है.

कोरोना का खिलाफ जंग में मोदी सरकार का 'राहत' अनुष्ष्ठान

इसके तहत अगले 3 महीने तक अलग अलग क्षेत्रों के लिए राहत का ऐलान किया गया है. मोदी सरकार की तरफ से राहत का ऐलान करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने महिलाओं, गरीबों, मजदूरों, किसानों  बुजुर्गों, वृद्धों और दिव्यागों के लिए राहत के लिए कई घोषणाएं की है. वित्त मंत्री ने कहा कि गरीबों के खाने का प्रबंध किया जाएगा और सभी लाभार्थियों को सरकार की मदद वाली राहत सीधे उनके खाते में ट्रांसफर की जाएगी.

आइए आपको बताते हैं कि किन किन लोगों के लिए केंद्र सरकार ने राहत की घोषणा की है. सबसे पहले बताते हैं कि महिलाओं के लिए वित्त मंत्री ने क्या क्या रहात देने की घोषणाएं की हैं.

मोदी सरकार ने महिलाओं के लिए भी बड़े ऐलान किए. जिसका फायदा 3 करोड़ महिला जनधन खाताधारकों को मिलेगा. महिला जनधन खाता धारकों को 3 महीने तक 500 रुपये मिलेंगे, 3 करोड़ महिला जनधन खाता धारकों के अकाउंट में पैसे भेजे जाएंगे. उज्जवला योजना के तहत 3 महीने तक मुफ्त गैस सिलेंडर मिलेगा और महिला सेल्फ हेल्प ग्रुप्स को 20 लाख तक का लोन क्रेडिट मिल सकेगा.

कोरोना 'काल' में मोदी सरकार की जनकल्याण 'क्रांति'

गरीबों के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना लाई जाएगी ताकि लॉकडाउन से प्रभावित ग़रीबों को फौरन मदद मिल सके. अगले 3 महीने तक 5 किलो गेहूं, चावल मुफ्त मिलेगा. 1 KG अतिरिक्त दाल भी मुहैया कराई जाएगी. 80 करोड़ ग़रीबों को फायदा मिलेगा. खास बात ये है कि जनधन अकाउंट में पैसा ट्रांसफर होगा.

मनरेगा मज़दूरों की दिहाड़ी 182 से बढ़कार 202 रुपये कर दी गई है. 5 करोड़ मनरेगा मजदूरों को इसका फायदा होगा.

कोरोना वायरस की 'आफ़त', सरकार ने दी 'राहत'

किसानों के लिए कैश ट्रांसफर योजना लाई गई है जिसका फायदा 8 करोड़ से ज्यादा किसानों को होगा. किसानों के खाते में 2000 रुपये डाले जाएंगे. 8 करोड़ 69 लाख किसानों को फायदा होगा.

सीनियर सिटीजंस, विधवाओं, दिव्यांगों को 1000 रुपए दिए जाएंगे.

कोरोना योद्धाओं के साथ मोदी सरकार का हाथ

कोरोना को हराने के लिए  डिस्ट्रिक्ट मिनरल्स फंड की भी घोषणा की गई है. केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों से अपील की है कि वे इस फंड का इस्तेमाल मेडिकल टेस्टिंग, स्क्रीनिंग और हेल्थ केयर के लिए करें. हेल्थ वर्कर के लिए 50 लाख रुपये का बीमा कवर और 20 लाख हेल्थ वर्कस को योजना का लाभ मिलेगा.

सबसे बड़ी आपदा सबसे बड़ा पैकेज

जिन लोगों को EPFO का लाभ मिल रहा है उनके लिए वित्त मंत्री ने बड़ा ऐलान किया है. अगले तीन महीने तक सरकार एंप्लॉयर और एंप्लॉयी दोनों का हिस्सा सरकार जमा करेगी.

3 महीने तक PF अकाउंट में सरकार पैसे देगी. Employee और Employer दोनों का हिस्सा सरकार देगी. 100 कर्मचारियों वाली कंपनी को EPF का फायदा मिलेगा. कर्मचारी PF से 75% पैसा निकाल सकेंगे. 90% कर्मचारियों की आय 15000/महीना से कम होने पर PF का लाभ मिलेगा.

इसे भी पढ़ें: कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार देश को देगी 1.70 लाख करोड़ की राहत

कंस्ट्रक्शन सेक्टर के लिए 31,000 करोड़ का फंड दिया जाएगा, जिसका फायदा  निर्माण क्षेत्र के रजिस्टर्ड वर्कर्स को मिलेगा. साथ ही स्वयं सेवक समूहों को दीन दयाल योजना के तहत 20 लाख का फ्री लोन, जो पहले 10 लाख था.

इसे भी पढ़ें: कोरोना को देंगे मात इकोनॉमी के लौटेंगे अच्छे दिन!

इसे भी पढ़ें: पुतिन के 'रूसी फॉर्मूले' ने कोरोना को किया STOP