बंगाल में कब तक चलेगी दीदी के गुंडों की दादागिरी?

पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी पार्टी टीएमसी कार्यकर्ताओं की गुंडई चरम पर है. ममता बनर्जी के तथाकथित गुंडों ने हुड़दंगई की हर सीमा लांघ दी है. पानी सिर के उपर चला गया है. दीदी के गुंडों ने एक बार फिर भाजपा नेता को निशाना बनाया और लात घूसों से पिटाई कर दी.

बंगाल में कब तक चलेगी दीदी के गुंडों की दादागिरी?

नई दिल्ली: ममता के गढ़ पश्चिम बंगाल में तीन विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव के दौरान एक ऐसा वीडियो सामने आया, जिसे देखकर हर किसी को गुस्सा आ जाएगा. दीदी की पार्टी टीएमसी के कुछ गुंडों ने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष और करीमपुर से उपचुनाव के उम्मीदवार जय प्रकाश मजूमदार को दिनदहाड़े लात घूसों से पीट दिया.

दीदी के गुंडों की गुंडई LIVE

खुश भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें साफ साफ देखा जा सकते है कि कैसे टीएमसी के तथाकथित गुंडों ने पहले तो जय प्रकाश मजूमदार को मुक्के से मारते हैं, और फिर उन्हें ढकेल देते हैं. मजूमदार इस हमले में झाड़ियों में गिर जाते हैं. जिसके बाद वो उठने की कोशिश ही कर रहे होते हैं कि इतने में एक शख्स उनपर लात से जोरदार किक मारता है. और वो फिर से झाड़ियों में गिर जाते हैं. इस वार के बाद हमलावर भागने लगते हैं. जिसके बाद वहां मौजूद सुरक्षाबलों ने गुंडों को खदेड़ दिया. लेकिन इन सबमें दीदी के गुंडों की गुंडागर्दी जाहिर हो जाती है.

यहां देखें वीडियो

इस घटना के बाद भाजपा सांसद और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ट्वीट कर इसपर नाराजगी जताई है. उन्होंने ट्वीट में अपना एक वीडियो भी शेयर किया है. जिसमें इस पूरे वाकये की आलोचना की और ममता बनर्जी के सरकार को कटघरे में खड़ा किया.

ये कोई पहली घटना नहीं है, जब पश्चिम बंगाल में दीदी के गुंडों की दादागिरी का नजारा सामने आया हो. इससे पहले एक या दो बार नहीं बल्कि न जाने कितनी बार भाजपा के बड़े नेताओं पर हमला और मारपीट का मामला सामने आया है. आपको ऐसी ही कुछ बड़ी घटनाओं से रूबरू करवाते हैं.

बाबुल सुप्रियो पर हमला

केंद्र सरकार में राज्यमंत्री और भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो के साथ भी कोलकाता के जादवपुर यूनिवर्सिटी में बदसलूकी का मामला सामने आया था. दीदी के राज में तथाकथित गुंडों ने उनको शिकार बनाते हुए कुर्ता फाड़ दिया, धक्का-मुक्की की और बाल नोंचकर उनके साथ मारपीट की. इतना ही नहीं दीदी के गुंडों ने आसनसोल से सांसद बाबुल सुप्रियो के सुरक्षाकर्मियों के साथ भी मारपीट की थी. हमलावर छात्रों ने बाबुल का कॉलर पकड़कर खींचा, जिसके बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्रों और भाजपा कार्यकर्ताओं ने ममता बनर्जी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था.

रूपा गांगुली के साथ मारपीट

अभिनेत्री से राजनीति में आने वाली भाजपा की नेता रूपा गांगुली के उपर भी पश्चिम बंगाल में दक्षिण 24 परगना जिले के काकद्वीप में तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हमला कर दिया था. जिसमें वो घायल हो गई थी. जिसके बाद उन्होंने अस्पताल में भाजपा कार्यकर्ताओं और अपने परिवावर वालों के साथ पहुंचकर अपना इलाज कराया था. तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मारपीट की थी, जिसकी शिकायत भी दर्ज कराई गई थी.

दिलीप घोष की पिटाई

पश्चिम बंगाल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष और सांसद दिलीप घोष पर पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में भीड़ ने हमला कर दिया था. और उनके समर्थकों से भी मारपीट की गई. इसके अलावा एक बार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रोजाना की तरह मॉर्निंग वॉक और चाय पे चर्चा के लिए जा रहे थे, जिस दौरा टीएमसी कार्यकर्ताओं ने उनपर हमला कर दिया. 

भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या

पश्चिम बंगाल में बार-बार भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की वारदात सामने आती रही है. ऐसे में ममता सरकार की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़ा होता रहा है. लोकसभा चुनाव से पहले तक तकरीबन 40 भाजपा कार्यकर्ताओं को जान से मारने का मामला सामने आया. जिसके बाद भाजपा नेताओं ने दीदी की कार्यशैली को कोसते हुए खूब बवाल काटा था.

इसे भी पढ़ें: 'ममता दीदी' को लगा ओवैसी से डर, देखिए पूरी खबर

ऐसे में दीदी के गढ़ में एक बार फिर गुंडों का नंगा नाच देखने को मिला है. लेकिन दीदी की पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी रहती है. तभी तो टीएमसी कार्यकर्ता हर बार अपनी गुंडई का नजारा पेश करने में कामयाब हो जाते हैं. सबसे बड़ा सवाल यहीं है कि ये सब किसके सह पर होता है?

इसे भी पढ़ें: 'गाय का नहीं, कुत्ते का मांस खाओ'