इमरान ने दो दिन में 2 बार बेवकूफी की हदें कर दीं पार

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अपनी गलतियां का फिर ये कहिए कि बेवकूफियों के लिए बदनाम होते जा रहे हैं. उन्होंने पिछले दिनों दो बार ऐसी हरकतें कीं, जिन्हें देखकर पूरी दुनिया उन पर हंस रही है.   

इमरान ने दो दिन में 2 बार बेवकूफी की हदें कर दीं पार

नई दिल्ली: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का जवाब नहीं. उनकी नातर्जुर्बेकार हरकतों के कारण पूरी दुनिया में उनका मजाक बनाया जा रहा है. इमरान को जितना प्रगतिशील और उदारवादी माना जाता था. वह उतने ही दकियानूसी और लापरवाह साबित हो रहे हैं. 

शर्म के मारे इमरान ने ट्वीट किया डिलीट
शब-ए-बारात त्योहार के मौके पर पाकिस्तान के वजीरे आजम इमरान खान ने गुरुवार को एक ट्वीट किया. जिसमें उन्होंने लोगों से अल्लाह से माफी मांगने को कहा. उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि दुनिया भर के मुस्लिम आज रात शब-ए-बरात पर विशेष प्रार्थना करें. साथ ही अल्लाह से आशीर्वाद मांगे और बुरे कामों को माफ करने की गुजारिश करें. 

लेकिन इमरान ने ये प्रार्थना बहुत देर से की. पाकिस्तान में 8 अप्रैल यानी बुधवार की शाम को शब-ए-बरात शुरू हुआ था और 9 अप्रैल यानी गुरुवार को खत्म हो गया. लेकिन इमरान ने अपना ट्विट त्योहार के खत्म होने के बाद गुरुवार को किया.
 
इसके बाद इमरान खान ट्वीटर पर इस कदर ट्रोल हुए कि आखिरकार उन्हें ये ट्वीट डिलीट करना पड़ गया. लोगों ने इमरान के इस ट्वीट पर ऐसे ऐसे कमेंट किए कि वो ट्विटर पर ट्रेंड करने लगे. बाद में शर्म के मारे इमरान ने ट्विट डिलीट कर लिया. 

दकियानूसी इमरान की दूसरी गलती
इसके बाद इमरान ने अपनी जाहिल हरकतों का मुजाहिरा एक बार फिर किया. उन्होंने कोरोना वायरस पर अपने देशवासियों को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने रस्मी सा भाषण दिया. 
लेकिन इस बयान में खबर इमरान की जुबान से नहीं बल्कि हाथों से निकली. दरअसल इमरान ने भाषण के दौरान तस्बीह(माला) पकड़ रखी थी. जिसे वो फेर रहे थे. कहते हैं इमरान को ये माला उनकी तीसरी पत्नी बुशरा बेगम ने दी है. जिन्हें पाकिस्तान में पिंकी जादूगरनी के नाम से जाना जाता है. वह तंत्र मंत्र टोने टोटके की माहिर मानी जाती हैं. उन्हीं के असर में आकर इमरान खान ने पूरी दुनिया के सामने इस तरह की मूर्खता की. 

इमरान इसके पहले अंतरराष्ट्रीय फोरम पर इस तरह की हरकत कर चुके हैं. साल 2019 के सितंबर में वो अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलने व्हाइट हाउस पहुंचे थे. तब भी बेचैन इमरान प्रेस कॉन्फ्रेंस के वक्त ट्रंप के सामने माला का जाप कर रहे थे.. 

 अब सवाल ये है कि क्या पाकिस्तान में कोरोना के कहर से बचने के लिए इमरान अब बुशरा की इस तिलिस्मी माला के भरोसे बैठे हैं. क्योंकि पाकिस्तान में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. लेकिन मुल्क के कई शहर आज भी लॉकडाउन नहीं किए गए हैं.