हिमाचल प्रदेश के इस कॉलेज पर लगा रिजल्ट के साथ हेरा-फेरी का आरोप, स्टूडेंट्स ने किया प्रदर्शन
topStorieshindi

हिमाचल प्रदेश के इस कॉलेज पर लगा रिजल्ट के साथ हेरा-फेरी का आरोप, स्टूडेंट्स ने किया प्रदर्शन

हिमाचल प्रदेश ऊना में विष्णु सतनाम धर्म महाविद्यालय भटोली के बाहर स्टूडेंट्स ने प्रदर्शन किया उनका कहना है कि कॉलेज प्रशासन ने उनके रिजल्ट में हेराफेरी की है. 

 

हिमाचल प्रदेश के इस कॉलेज पर लगा रिजल्ट के साथ हेरा-फेरी का आरोप, स्टूडेंट्स ने किया प्रदर्शन

राकेश मल्ही/ऊना: हिमाचल प्रदेश के जिला ऊना अजौली में बच्चों ने विष्णु सतनाम धर्म महाविद्यालय भटोली के बाहर प्रदर्शन किया. यह प्रदर्शन रिजल्ट में हेराफेरी करने को लेकर किया गया. स्टूडेंट्स का कहना है कि उनका रिजल्ट 21 नवंबर को आ गया था, जिसमें वे सभी पास थे, लेकिन आज रिजल्ट अपडेट हुआ है, जिसमें बीकॉम और बीएससी के बच्चे फेल दिखाए गए हैं. 

स्टूडेंट्स की यूनिवर्सिटी से मांग
बच्चों ने कहा कि यूनिवर्सिटी ने हमारे रिजल्ट के साथ हेराफेरी की है. पहले हमें पास बताया जाता है और बाद में हमें फेल दिखाया जाता है. अब हम क्या करें किस क्लास में बैठे और किस क्लास में ना बैठें ये भी समझ नहीं आ रहा है. यही वजह है कि आज हम सभी ने प्रदर्शन कर कॉलेज प्रशासन से मांग की है कि हमारे रिजल्ट यूनिवर्सिटी से पुख्ता तौर पर घोषित किया जाए, जिससे हमारा भविष्य सुरक्षित बना रहे और आगे के लिए कोई फैसला ले सकें. 

ये भी पढ़ें- हिमाचल प्रदेश के 300 साल पुराने इस मंदिर में पूरी होती है हर मनोकामना

कॉलेज प्रशासन लगाए गंभीर आरोप
छात्रों का कहना है कि उनके 2 साल का समय बर्बाद हो गया है. यूनिवर्सिटी की लापरवाही के चलते उनके 2 साल का समय बर्बाद हो गया है. पहले उनको ग्रेस मार्कस दिए गए, लेकिन बाद में अपडेट लिस्ट में ग्रेस मार्क कम कर उनकी कंपार्टमेंट दिखा दी गई, वहीं विद्यार्थियों ने कॉलेज प्रशासन पर भी अधूरी पढ़ाई किए जाने के आरोप लगाए हैं.

क्या अब ATM भी नहीं रहा सुरक्षित, चोर बिना कार्ड कैसे निकाल रहे कैश

क्या कहते हैं भटोली कॉलेज के प्रधानाचार्य 
वहीं भटोली कॉलेज के प्रधानाचार्य अरविंद शर्मा का कहना है कि हमने यूनिवर्सिटी में इस मुद्दे को लेकर बातचीत की है. इस समस्या को लेकर मेल भी किया गया है. बच्चों की तरफ से जो भी समस्या आई है उसको विस्तार में लिखकर भेजा गया है. बच्चों के साथ बेइंसाफी  ना हो और बच्चों का भविष्य खराब ना हो इसको देखते हुए हमने यूनिवर्सिटी से इस मामले में जल्द से जल्द समस्या का समाधान किए जाने की बात कही है.

WATCH LIVE TV

Trending news