कश्मीर: मेजर कमलेश मैनी ने इस तरह खुशियों से भर दी कुपवाड़ा के एक परिवार की ज़िंदगी

फारूक़ वानी/श्रीनगर: आतंकवाद से ग्रस्त उत्तरी कश्मीर के जिला कुपवाड़ा में सेना के एक मेजर का नाम लोगों की जुबान पर ही नहीं बल्कि दिलों पर छाया हुआ है. अपनी ड्यूटी को निभाते हुए उन्होंने ऐसा काम किया कि आज वह लोगों के दिलों में बस गए हैं. मेजर की नेकदिली इन दिनों इस जिले में चर्चा में है. मामला यह है कि मेजर की कोशिशों से एक मूक बधिर (गूंगे और बहरे) बच्चे की नई जिंदगी ही बदल गई है. यह बच्चा अब धीरे-धीरे सुनने लगा है. उसके परिवार वालों को अब यह उम्मीद हो गई है कि उनका बच्चा पूरी तरह से ठीक होकर बाकी बच्चों की तरह ही जिंदगी जी सकेगा.

1/5

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के छंजमूला इलाके के रहने वाले गौहर को बचपन से न तो सुनाई देता था और न ही वह बोल पाता था. इसी क्षेत्र में मौजूद सेना की एक यूनिट में मेजर कमलेश मैनी की तैनाती हुई. वह अकसर क्षेत्र में आते थे और लोगों के बीच पहुंचकर उनकी परेशानियों को सुनते थे. 

2/5

इस दौरान उनकी मुलाकात गौहर से हुई. धीरे-धीरे मेजर मैनी की गौहर से दोस्ती होने लगी. गौहर अकसर इशारों में मेजर को अपनी बात समझता था लेकिन कई बार मेजर यह समझ नहीं पाते थे और परिवार भी इस दौरान भावुक हो जाता था.

यह भी पढ़ें: Army Day 2021: भारतीय फौज के 6 बड़े मेडल, जानिए क्यों और कैसे दिए जाते?

3/5

खबरों के मुताबिक मेजर ने डॉक्टरों से परामर्श किया. डॉक्टरों से मिले जवाब दे बाद मेजर में और हिम्मत आई क्योंकि डॉक्टर्स ने इस तरह के इलाज के मुमकिन बताया था. जिसके बाद मेजर ने अपने दोस्त का इलाज कराने का फैसला लिया और उनकी मेहनत रंग भी लाई. जिसकी बदौलत अब मेजर का दोस्त थोड़ा सुनाई देने लगा. अब मेजर का दोस्त मेजर की बातें सुन सकता है. 

यह भी पढ़ें: बुरे फंसे बाबर आजम: महिला ने लगाए थे संगीन आरोप, अब अदालत ने दिया ये बड़ा हुक्म

4/5

मेजर मैनी ने अपने नन्हें दोस्त के परिजनों को बच्चे का किसी अच्छी जगह बेहतर इलाज करवाने आश्वासन दिया है. उन्होंने परिजनों को कहा है कि गौहर जल्दी ही पूरी तरह से सुनना शुरू करेगा और सभी से बातें भी करेगा. गौहर के परिजन भी अब मेजर को कोशिशों से खुश हैं. 

यह भी पढ़ें: आज से 11 अंकों का हो जाएगा आपका मोबाइल नंबर! जानिए क्या हुए बदलाव

5/5

उनका कहना है कि उनका बच्चा अब उनकी बातें सुनता है. वे मेजर मैनी की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं. उन्हें अपना बड़ा बेटा करार देते हुए गौहर के माता-पिता कहते हैं कि उसने तो उनकी पूरी जिंदगी ही बदल दी है.