कारगिल फतह के 21 साल मुकम्मल: राजनाथ और CDS रावत ने शहीदों को पेश किया खिराजे अकीदत

21 साल पहले आज ही दिन हिंदुस्तानी फौज ने अपनी बहादुरी की मिसाल कायम करते हुए पाकिस्तान सबक सिखाया था.

कारगिल फतह के 21 साल मुकम्मल: राजनाथ और CDS रावत ने शहीदों को पेश किया खिराजे अकीदत
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: साल 199 में आज ही दिन हिंदुस्तानी फौज ने कारगिल जंग में फतह हासिल की थी. इस फतह को आज 21 साल मुकम्मल हो चुके हैं. इस मौके पर वज़ीरे दिफा (Defence Minister) राजनाथ सिंह (Rajnath Singh), चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ (CDS) जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) और तीनों फौजों के सरबराह ने दिल्ली के नेशनल वॉर मेमोरियल में शहीदों को खिराजे अकीदत पेश की. 

21 साल पहले आज ही दिन हिंदुस्तानी फौज ने अपनी बहादुरी की मिसाल कायम करते हुए पाकिस्तान सबक सिखाया था. पाकिस्तानी फौज ने हिंदुस्तान की जिन चोटियों पर कब्ज़ा किया था, उनको खाली करवाया था. 

मुल्क आज यौमे फतह मना रहा है. कारगिल की ऊंची पहाड़ियों पर पाकिस्तान के फौजियों ने कब्जा कर लिया था. फिर 18 हजार फीट की ऊंचाई पर तिरंगा लहराने के लिए हिंदुस्तानी फौज के बहादुर जवानों ने ऑपरेशन विजय की तारीख लिखी थी. 

बता दें कि 1998 में पाकिस्तान ने कारगिल की ऊंची चोटियों पर कब्ज़ा कर लिया था. जिसके बाद हिंदुस्तान ने मिग-27, मिग-29 और बोफोर्स तोप के गोलों का इस्तेमाल करते हुए पाकिस्तान को शिकस्त का सामना कराया था.