close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

NBFC के पास है अर्थव्यवस्था के कुल कर्ज का 20 फीसदी : CEA सुब्रमण्यम

र्थव्यवस्था में कुर्ल कर्ज में पांचवां हिस्सा रखने वाली गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियां अगस्त 2018 से ही चुनौतियों का सामना कर रही हैं.

NBFC के पास है अर्थव्यवस्था के कुल कर्ज का 20 फीसदी : CEA सुब्रमण्यम
कर्ज देने वाले संस्थानों ने दीर्घकालीन संपत्ति सृजित करने के लिये अल्पकाल के लिये कर्ज लिये. (फाइल)

मुंबई: मुख्य आर्थिक सलाहकार (चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर) कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम ने बुधवार को कहा कि गैर-बैंकिंग कंपनियों के समक्ष जो समस्यायें है उनकी जड़ में उनकी कर्ज चुकाने की क्षमता का अहम मुद्दा है. अर्थव्यवस्था में कुर्ल कर्ज में पांचवां हिस्सा रखने वाली गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियां अगस्त 2018 से ही चुनौतियों का सामना कर रही हैं.

डन एंड ब्रॉडस्ट्रीट पुरस्कार समारोह के दौरान अलग से बातचीत में सुब्रमण्यम ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘नकदी की समस्या के रूप में जो चीजें आ रही हैं, वह कर्ज चुकाने की क्षमता से जुड़ी हैं.’’ उन्होंने कहा कि समस्या का निचोड़ संपत्ति देनदारी का अंतर है. कर्ज देने वाले संस्थानों ने दीर्घकालीन संपत्ति सृजित करने के लिये अल्पकाल के लिये कर्ज लिये.

जेटली की गहरी समझ के चलते GST और Insolvency जैसे प्रभावी सुधार हो पाए : CEA सुब्रमण्यम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में नई सरकार के कार्यकाल के बारे में सु्ब्रमणियम ने कहा कि जोर अब 4L (लैंड, लेवर, लोन और लॉ)पर होगा. उन्होंने कहा, ‘‘हमें यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि निजी क्षेत्र प्रतिस्पर्धी (कॉम्पिटिटिव) हों, खासकर उत्पादन के साधन, भूमि, श्रम और पूंजी.’’ उन्होंने कहा कि इससे अर्थव्यवस्था में कुछ कर गुजरने की भावना बढ़ाने में मदद मिल सकती है.