इसी हफ्ते से शुरू हो रही है GST रिटर्न फाइलिंग, इन कारोबारियों को होगा फायदा

अब समय आ गया है जब आपको अपना GST रिटर्न फाइल करना होगा. इसके बावजूद इस बार ये रिटर्न फाइल करना बेहद आसान होगा. साथ ही ये कई कारोबारियों के लिए फायदेमंद भी साबित होने वाला है.

इसी हफ्ते से शुरू हो रही है GST रिटर्न फाइलिंग, इन कारोबारियों को होगा फायदा

लॉकडाउन और कोरोना महामारी संक्रमण के बीच केंद्र सरकार ने GST रिटर्न फाइलिंग में कुछ समय के लिए राहत दी थी. लेकिन अब समय आ गया है जब आपको अपना GST रिटर्न फाइल करना होगा. इसके बावजूद इस बार ये रिटर्न फाइल करना बेहद आसान होगा. साथ ही ये कई कारोबारियों के लिए फायदेमंद भी साबित होने वाला है.

ऐसे मिलेगा फायदा
GST रिटर्न भरना और आसान हो गया है. खासकर उन 12 लाख व्यानपारियों (Taxpayer) के लिए जो NIL का रिटर्न भरते हैं. अब SMS के जरिए अपना Nil रिटर्न भर सकेंगे. CBIC के मुताबिक जुलाई के पहले हफ्ते से यह सर्विस शुरू हो जाएगी. हमारे सहयोगी zeebiz.com के मुताबिक इन ट्रेडर्स को अब GSTR 3B की तरह GST R1 रिटर्न फॉर्म भरने की जरूरत नहीं रहेगी. करदाताओं को 14409 पर SMS करना है और उनका रिटर्न भरा माना जाएगा. इससे न सिर्फ व्यानपारियों का समय बल्कि पैसे भी बचेंगे, जो उन्हेंक टैक्सन एक्स्पर्ट की मदद में खर्चने पड़ते हैं.

ऐसे भरें रिटर्न
मैसेज टाइप करें NIL-Space-3B-Space-GST Number -Space-Tax Period. मसलन मैसेज इस तरह होगा NIL 3B 09xxxxxxxxxxxZC 052020. अगर R1 फॉर्म भरना है तो 3B की जगह R1 लिखना होगा. 

ये भी देखें-

कन्फ र्मेशन
इस मैसेज को आपको 14409 पर भेजना है, मैसेज भेजने के बाद आपको एक कोड आएगा जोकि 6 नंबर का होगा. अब आपको फाइलिंग के लिए कन्फेर्म करना है जिसमें यह कोड लगेगा और आपको मैसेज टाइप करना होगा CNF 3B code जबकि R1 के लिए CNF R1 code. इसके बाद आपको आपके रिटर्न भरने का कन्फर्मेशन आएगा एक्नॉलेजमेंट मिलेगा.

ऐसे मिलेगी मदद
अगर आपको कोई हेल्प चाहिए तो भी आप इसके जरिए ले सकते हैं. उसके लिए आपको टाइप करना होगा HELP 3B. इस पर आपको हेल्प मिल जाएगी.
देश में GST के करदाता कुल मिलाकर 1.22 करोड़ हैं जिनमें से 22 लाख से ज्यादा करदाता Nil का रिटर्न भरते हैं.

ये भी पढ़ें: आज से आपकी जिंदगी में बदलने वाला है बहुत कुछ, बैंकिंग से लेकर रसोई तक पड़ेगा असर

वेबसाइट
टैक्सपेयर को जीएसटीआर-3बी फॉर्म से भी अपना जीरो रिटर्न भर सकते हैं, हालांकि उन्हें 14409 पर भेजे जाने वाले अपने एसएमएस में 3B की बजाय R1 का इस्ते2माल करने की जरूरत होगी. www.gst.gov.in पर ‘help’ में सभी तरह की जानकारी दी गई है. GSTR 3B के लिए जून में यह सर्विस शुरू हुई थी.