फॉरेन कैपिटल फ्लो बढ़ने से रूपया डॉलर के मुकाबले दो महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंचा

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने मंगलवार को पूंजी बाजार में 2,477 करोड़ रुपये का निवेश किया.

फॉरेन कैपिटल फ्लो बढ़ने से रूपया डॉलर के मुकाबले दो महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंचा
मंगलवार को एक डॉलर की कीमत 69.71 रुपये रही. (फाइल)

मुंबई: विदेशी बाजारों में डॉलर कमजोर पड़ने तथा देश में विदेशी पूंजी प्रवाह (Foreign Capital Flow) बढ़ने से मंगलवार को विदेशीमुद्रा विनिमय बाजार में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 18 पैसे बढ़कर 69.71 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंच गया. बाजार सूत्रों ने कहा कि निर्यातकों और बैंकों की डॉलर बिकवाली से भी घरेलू मुद्रा को समर्थन प्राप्त हुआ. विदेशी निवेशकों ने मंगलवार को भारतीय बाजार में पूंजी निवेश जारी रखा जिससे घरेलू मुद्रा को बल मिला.

शुरुआती आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने मंगलवार को पूंजी बाजार में 2,477 करोड़ रुपये का निवेश किया. इससे पहले उन्होंने सोमवार को 3,810.60 करोड़ रुपये का निवेश किया था. अतंर बैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपये की विनिमय दर 69.73 पर खुली और कारोबार के दौरान शेयर बाजार में भारी तेजी के चलते 25 पैसे बढ़कर 69.64 तक मजबूत हो गया.

बाद में रुपये का आरंभिक लाभ कुछ कम हो गया और अंत में कारोबार की समाप्ति पर रुपया अपने पिछले बंद भाव के मुकाबले 18 पैसे अथवा 0.26 प्रतिशत की मजबूती के साथ प्रति डॉलर 69.71 रुपये पर बंद हुआ. सोमवार को भी रुपया 25 पैसे की मजबूती के साथ बंद हुआ था. बीएसई सूचकांक मंगलवार को 481.56 अंक अथवा 1.30 प्रतिशत की तेजी के साथ 37,535.66 अंक पर बंद हुआ.