close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अब भारत में भी जारी किए जाएंगे e-Passport, पीएम मोदी ने किया ऐलान

ह सुविधा शुरू हो जाने के बाद दुनियाभर में दूतावासों और भारतीय राजदूतावासों से ही पासपोर्ट से जुड़ी सेवा मिलने लगेगी. 

अब भारत में भी जारी किए जाएंगे e-Passport, पीएम मोदी ने किया ऐलान
ई-पासपोर्ट में चिप लगी होती है जिसमें सारी जानकारी होती है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रवासी भारतीय दिवस के उद्घाटन समारोह में कहा कि अब पेपर पासपोर्ट की जगह चिप पासपोर्ट मिलेगा. इसके लिए काम जारी है. अपने संबोधन में पीएम ने कहा कि सरकार सेंट्रलाइज्ड पासपोर्ट सिस्टम पर काम कर रही है. यह सुविधा शुरू हो जाने के बाद दुनियाभर में दूतावासों और भारतीय राजदूतावासों से ही पासपोर्ट से जुड़ी सेवा मिलने लगेगी. उसके बाद पेपर पासपोर्ट की जगह ई-पासपोर्ट जारी किया जाएगा.

पीएम मोदी ने कहा कि इस प्रोजेक्ट के तहत दुनियाभर के भारतीय राजदूतावासों और दूतावासों को पासपोर्ट सेवा प्रोजेक्ट से जोड़ दिया जाएगा.  पीएम ने यह भी कहा कि वर्तमान सरकार PIO OCI की समस्याओं को लेकर गंभीर है. उन्होंने कहा कि पर्सन ऑफ इंडियन ओरिजिन (PIO) और ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया (OCI) कार्ड धारकों के लिए वीजा आवेदन की प्रक्रिया को आसान बनाने का काम चल रहा है.

प्रवासी भारतीय दिवस: CM योगी बोले, 'भगवान ब्रह्मा ने खुद कहा काशी का निर्माण काशी विश्वनाथ ने किया'

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी कोशिश है कि दुनियाभर में भारतीय जहां भी हैं वे खुश और सुरक्षित रहें. उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े चार सालों में करीब 2 लाख भारतीयों को, जो विदेश में रहते हैं उन्हें सरकार की तरफ से मदद पहुंचाई गई है. इस साल इस कार्यक्रम में 5000 प्रतिनिधियों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है. कार्यक्रम का आयोजन उत्तर प्रदेश सरकार और विदेश मंत्रालय की तरफ से वाराणसी में किया गया है.

क्या होता है ई-पासपोर्ट
ई-पासपोर्ट को बॉयोमेट्रिक पासपोर्ट भी कहते हैं. इसमें पासपोर्ट में एक चिप लगी होगी. उस चिप में आपसे संबंधित सारी जानकारी स्टोर की जाएगी. एयरपोर्ट पर सुरक्षा के दौरान पासपोर्ट चेक के अलावा चिप की भी जांच की जाएगी, जिससे आइडेंटिटी थेप्ट को आसानी से रोका जा सकता है. पूरी दुनिया में इसे सिस्टम को तेजी से अपनाया जा रहा है और इसका सकारात्मक परिणाम भी सामने आए हैं.