close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ICC World Cup से फिर बिना खेले लौटेंगे दिनेश कार्तिक? तो फिर बनाएंगे अनोखा रिकॉर्ड

दिनेश कार्तिक को मौजूदा क्रिकेट विश्व कप (World Cup 2019) में खेलने का मौका नहीं मिला है. उन्हें प्लेइंग XI में जगह मिलने की संभावना भी कम है. 

ICC World Cup से फिर बिना खेले लौटेंगे दिनेश कार्तिक? तो फिर बनाएंगे अनोखा रिकॉर्ड
दिनेश कार्तिक ने 2004 में पहला वनडे मैच खेला था. वे वर्ल्ड कप खेलने गई टीम इंडिया के सबसे सीनियर सदस्य हैं.

नई दिल्ली: दिनेश कार्तिक. भारतीय क्रिकेट का वह खिलाड़ी, जिसे जितनी बार खारिज किया, उसने उतनी ही बार सबको गलत साबित किया. वे 16 साल के करियर में कम से कम 16 बार ही टीम इंडिया से बाहर हुए और वापसी भी की. अब आईसीसी क्रिकेट विश्व कप (World Cup 2019) के लिए भारतीय टीम में शामिल है. लेकिन लगता है, किस्मत एक बार फिर इस क्रिकेटर को दगा देने जा रही है. दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) को अब तक विश्व कप में खेलने का मौका नहीं मिला है. उनके यह मौका मिलने की संभावना भी कम नजर आ रही है. 

दिनेश कार्तिक इससे पहले 2007 के विश्व कप में भी भारतीय टीम के सदस्य थे. तब टीम इंडिया पहले ही दौर में बाहर हो गई थी और दिनेश कार्तिक बिना खेले ही स्वदेश लौट आए थे. इस बार टीम इंडिया अच्छा खेल रही है और सेमीफाइनल की रेस में दमदारी से बनी हुई है. लेकिन टीम के समीकरण को देखते हुए ऐसा लगता है कि दिनेश कार्तिक को शायद ही प्लेइंग इलेवन में जगह मिले. अगर ऐसा हुआ और दिनेश कार्तिक प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं हुए तो वे एक अनचाहा रिकॉर्ड बनाएंगे. वे भारत के ऐसे पहले खिलाड़ी बन जाएंगे, जो दो बार विश्व कप की टीम में चुना गया और एक बार भी नहीं खेला. 

यह भी पढ़ें: World Cup: न्यूजीलैंड ने 5 मैच में नहीं बदली टीम, अफ्रीका ने सबको उतारा, जानें बाकियों का हाल

विनिंग कॉम्बिनेशन में छेड़खानी मुश्किल
अब मौजूदा वर्ल्ड कप और टीम इंडिया की बात. बड़े टूर्नामेंट में भारतीय टीम के ट्रेंड की बात करें तो वह विनिंग कॉम्बिनेशन में मुश्किल से ही बदलाव करती है. हालांकि, इस टूर्नामेंट में भारत को दो फोर्स्ड चेंज करने पड़ रहे हैं. पहला चेंज शिखर धवन की जगह विजय शंकर था. दूसरा चेंज अफगानिस्तान के खिलाफ देखने को मिलेगा. उस मैच में चोटिल भुवनेश्वर कुमार की जगह मोहम्मद शमी को मौका मिलना तय है. दिनेश कार्तिक का टीम में चयन दूसरे विकेटकीपर के तौर पर हुआ है. यानी, उन्हें तभी मौका मिलेगा, जब एमएस धोनी प्लेइंग इलेवन में ना हों. ऐसे में कार्तिक के लिए प्लेइंग इलेवन का रास्ता मुश्किल ही दिखता है. 

Dinesh Kartik 1

 

ऋषभ पंत ने और मुश्किल किया रास्ता 
पहले यह भी माना जा रहा था कि दिनेश कार्तिक को नंबर-4 पर आजमाया जा सकता है. लेकिन शिखर धवन की जगह ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के चयन के बाद यह संभावना कम हो गई है. ऋषभ पंत को नंबर-4 के लिए टीम में जगह दी गई है. ऐसे में अगर महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) किसी कारण से कोई मैच नहीं खेलते हैं, तो दिनेश कार्तिक की जगह पंत को ही वरीयता दी जाएगी. अब देखना है कि दिनेश कार्तिक को इस विश्व कप में खेलने का मौका मिलता है या वे 2007 की तरह दोबारा नहीं खेल पाने की निराशा के साथ लौटते हैं.