close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

किंग ऑफ स्टंपिंग: अपने वनडे करियर में दूसरी बार स्टम्प आउट हुए एमएस धोनी

महेंद्र सिंह धोनी अपने इंटरनेशनल क्रिकेट करियर में दोनों बार वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में ही स्टंप आउट हुए हैं.

किंग ऑफ स्टंपिंग: अपने वनडे करियर में दूसरी बार स्टम्प आउट हुए एमएस धोनी
अफगानिस्तान के गेंदबाज राशिद खान की गेंद पर इकराम अली खिल ने धोनी को स्टम्प आउट किया. (फोटो साभार: साेशल मीडिया)

नई दिल्ली: आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC World Cup 2019) में शनिवार को द रोज बाउल मैदान पर खेले गए मुकाबले में भारत ने अफगानिस्तान को 11 रनों से पराजित किया. इस मैच की पहली पारी में बैटिंग करने उतरी टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने अपने फैंस को तब हैरान कर दिया जब वह खुद स्टम्पिंग का शिकार हो गए.

दरअसल, अपने इंटरनेशनल क्रिकेट करियर में करीब 200 मौकों पर दूसरे बल्लेबाजों को स्टम्प आउट करने वाले भारत के अनुभवी बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी शनिवार को अपने 345 मैचों के वनडे करियर में दूसरी बार स्टम्प आउट हुए. धोनी को साउथम्पटन में जारी आईसीसी वर्ल्ड कप मुकाबले में अफगानिस्तान के गेंदबाज राशिद खान की गेंद पर इकराम अली खिल ने स्टम्प आउट किया. धोनी ने 52 गेंदों पर 28 रन बनाए. इस पारी में तीन चौके शामिल हैं.

इससे पहले कब ?
इससे पहले भी धोनी वर्ल्ड कप में ही स्टम्प आउट हुए थे. धोनी को 20 मार्च, 2011 को चेन्नई में वेस्टइंडीज के गेंदबाज देवेंद्र बीशू की गेंद पर विकेटकीपर डेवोन थॉमस ने स्टम्स आउट किया था. धोनी ने उस मैच में 30 गेंदों पर एक चौके की मदद से 22 रन बनाए थे.

अब तक 193
धोनी ने 90 टेस्ट मैचों में कुल 38 स्टम्प किए. वनडे मैचों में धोनी ने 121 स्टम्प किए हैं. टी-20 में धोनी के नाम 98 मैचों में 34 स्टम्प हैं. यानी कुल मिलाकर यह विकेटकीपर अब तक 193 बल्लेबाजों को स्टम्पिंग का शिकार बना चुका है.

IND vs AFG: धोनी की शानदार स्टंपिंग, राशिद खान आउट और पलट गया पूरा मैच; देखें VIDEO
आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 (ICC World Cup 2019) में शनिवार को द रोज बाउल स्टेडियम में खेले गए एक रोमांचक मुकाबले में भारत ने अफगानिस्तान को 11 रनों से हरा दिया. इस मैच में टीम इंडिया के दिग्गज खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) का धीमी बल्लेबाजी के चलते मजाक उड़ाया गया. जबकि वही धोनी फील्डिंग के दौरान एक विकेटकीपर के रूप में अफगानिस्तान की हार का सबसे बड़ा कारण बन गए.