दिल्ली हिंसा में पुलिस का बड़ा खुलासा, दंगों के लिए बने थे ये खास 'कोड वर्ड'

दिल्ली में दंगों से पहले साजिश के तहत प्लानिंग हुई थी. दंगों से पहले 'कोड वर्ड' बनाए गए थे.

दिल्ली हिंसा में पुलिस का बड़ा खुलासा, दंगों के लिए बने थे ये खास 'कोड वर्ड'

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की जांच में अहम खुलासा हुआ है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के सूत्रों के मुताबिक, दंगों (Delhi Riots) के लिए 'कोड वर्ड'  (code word) बने थे. दिल्ली में दंगों से पहले साजिश के तहत प्लानिंग हुई थी. दंगों से पहले 'कोड वर्ड' बनाए गए.

सूत्रों के मुताबिक, पहला कोड वर्ड था- ईद पर नैनीताल चलो. इसका मतलब होता था-रोड ब्लॉक करना. दूसरा कोड वर्ड- 'चांद रात'. इसका मतलब होता था, चक्का जाम से पहले की रात. वहीं पूरा दिल्ली दंगा 3 बातों पर था- प्रोटेस्ट, रोड ब्लॉक, दंगा.

ये भी पढ़ें: सिंगापुर से दिल्ली लाया गया अमर सिंह का पार्थिव शरीर, कल दोपहर बाद होगा अंतिम संस्कार

 

बता दें कि दिल्ली हिंसा मामले में ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) ने दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के सामने हिंसा का मास्टरमाइंड होने की बात कबूली है.  ताहिर हुसैन के कबूलनामे के मुताबिक, उसने दिल्ली हिंसा में मास्टरमाइंड की भूमिका निभाई थी.

ये भी देखें-