खौफनाक वारदात! 3 लाख वसूल कर की शादी, अगले दिन पेड़ पर लटका मिला दूल्हे का शव

शादी के अगले दिन दुल्हन के परिवार के कुछ लोग आए, फिर मीनाक्षी और महेंद्र को अपने साथ धार ले जाकर परिवार के अन्य लोगों से आशीर्वाद दिलवाने के लिए कहकर निकल गए. लेकिन अगले दिन मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के सैलाना बांसवाड़ा बाईपास पर सड़क के किनारे एक पेड़ पर महेंद्र का शव उसी के टीशर्ट से झूलता मिला.

खौफनाक वारदात! 3 लाख वसूल कर की शादी, अगले दिन पेड़ पर लटका मिला दूल्हे का शव
प्रतीकात्मक फोटो

चंद्रशेखर सोलंकी, रतलाम: एक युवक ने शादी के लिए अरमान सजाए और एजेंट के जरिए 3 लाख रुपये में अपने लिए दुल्हन लाया लेकिन दुल्हन के भेष में उसके घर के अंदर मौत आ गई. शादी के अगले दिन दूल्हे का शव घर से 100 किलोमीटर दूर पेड़ पर फंदे से झूलता मिला और दुल्हन परिवार सहित 3 लाख नकदी और 12 तोला सोना लेकर फरार हो गई. ये किसी फिल्म की कहानी नहीं बल्कि हकीकत है राजस्थान के घलकिया के मृतक युवक महेंद्र कलाल के साथ ये घटना हुई है.

बता दें कि रतलाम जिले के सैलाना बांसवाड़ा बाईपास पर सड़क के किनारे 29 जुलाई की सुबह पेड़ पर शव लटका होने की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मृतक के पास मिले फोन से परिजनों को तलाश करके युवक की शिनाख्त की. मृतक युवक महेंद्र राजस्थान (Rajasthan) के घलकिया का निवासी था. उसके परिजनों ने जो घटनाक्रम बताया उसने सबके होश उड़ा दिए.

परिजनों ने बताया कि मृतक महेंद्र काफी समय से कुवैत में इलेक्ट्रिशियन का काम करता था. 7 माह पहले शादी के लिए महेंद्र कुवैत से अपने घर राजस्थान के घलकिया लौट आया था. वो लॉकडाउन के बाद शादी के लिए दुल्हन की तलाश करने लगा, जब परिजनों के माध्यम से बात नहीं बनी तो वो घलकिया गांव के एक शादी करवाने वाले एजेंट मुकेश ने धार की रहने वाली मीनाक्षी पुरोहित से उसकी शादी तय करवाई. मीनाक्षी और उसका परिवार 26 जुलाई को महेंद्र के घर पहुंचा, जहां एजेंट मुकेश ने 3 लाख रुपये में महेंद्र और मीनाक्षी से शादी तय करवाई. 27 जुलाई को दुल्हन के परिवार को तय रकम 3 लाख देकर घर पर ही महेंद्र और मीनाक्षी की शादी करवाई गई.

ये भी पढ़े- करीबी ही निकला DU के एग्जामिनर के घर में हुई डकैती का मुख्य आरोपी, 3 गिरफ्तार

इसके बाद 28 जुलाई की रात दुल्हन के परिवार के कुछ लोग आए. फिर मीनाक्षी और महेंद्र को अपने साथ धार ले जाकर परिवार के अन्य लोगों से आशीर्वाद दिलवाने के लिए कहकर निकल गए. लेकिन 29 जुलाई को मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के सैलाना बांसवाड़ा बाईपास पर सड़क के किनारे एक पेड़ पर महेंद्र का शव उसी के टीशर्ट से झूलता मिला.

मृतक महेंद्र के परिजनों ने बताया कि दुल्हन मीनाक्षी और उसका परिवार 3 लाख नकदी व 12 तोला सोने के आभूषण के साथ फरार हो गया है. परिजनों ने आरोप लगाया है कि झूठी शादी का झांसा देकर एजेंट और दुल्हन मीनाक्षी सहित उसके साथियों ने इस घटनाक्रम को अंजाम दिया है. ये कोई लुटेरी दुल्हन का गिरोह है जिसने महेंद्र की हत्या की है. परिजनों के पास दुल्हन मीनाक्षी का आधार कार्ड भी है जिसमें दुल्हन का नाम मीनाक्षी पुरोहित और पता धार का है.

इधर पुलिस ने परिजनों के बयान के आधार पर कार्रवाई की बात कही है. पुलिस का कहना है कि फिलहाल मृतक का पोस्टमार्टम करवाया गया है. रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

LIVE TV