Gujarat: 'अवैध संबंध' के शक में टुकड़े-टुकड़े कर जमीन के 400 फीट नीचे गाड़ दिया, अब मिली उम्रकैद की सजा
X

Gujarat: 'अवैध संबंध' के शक में टुकड़े-टुकड़े कर जमीन के 400 फीट नीचे गाड़ दिया, अब मिली उम्रकैद की सजा

Man Cut Into Pieces In Gujarat: जब पीड़ित खेत पर पहुंचा तो दोषी उसे तालाब की तरफ ले गया, जहां उसके दो अन्य साथी पहले से मौजूद थे. वहां पहुंचकर दोषी ने पीड़ित को जमीन पर गिरा लिया और मारने लगा.

Gujarat: 'अवैध संबंध' के शक में टुकड़े-टुकड़े कर जमीन के 400 फीट नीचे गाड़ दिया, अब मिली उम्रकैद की सजा

भुज: गुजरात (Gujarat) के भुज (Bhuj) में गुरुवार को कोर्ट ने 19 साल के एक शख्स की बेरहमी से हत्या के मामले में तीन दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई. दोषी को शक था कि मृतक का उसकी पत्नी से अवैध संबंध था. जिसके बाद दोषी ने अपने 2 साथियों के साथ मिलकर पीड़ित को कुल्हाड़ी से काट डाला.

हत्या के पीछे दोषियों की दलील

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, देवांग बिजनेस के सिलसिले में मांडवी के नाना भालिया गांव में दोषी राम के घर बार-बार जाता था. फिर कुछ दिन के बाद राम को शक हो गया कि देवांग और उसकी पत्नी का अवैध संबंध है. इसके बाद दोषी खेमराज और नारान ने देवांग को राम की पत्नी से नहीं मिलने के लिए वॉर्निंग भी दी. लेकिन देवांग नहीं माना. फिर राम ने अपने साथियों के साथ मिलकर देवांग की हत्या करने का फैसला किया.

तीनों ने मिलकर रची हत्या की साजिश

दोषियों ने देवांग को मारने का प्लान बनाया. उन्होंने प्लान के मुताबिक, 12 फरवरी 2018 को देवांग को खेत पर मिलने के लिए बुलाया. इसके बाद देवांग अपने माता-पिता से कहकर निकला कि वह काम से जा रहा और अगली सुबह लौटेगा.

ये भी पढ़ें- 14 फुट ऊंची दीवार से 2 बच्चियों को फेंका, कैमरे में कैद हो गई दर्दनाक तस्वीर

उस दिन क्या हुआ था?

जब देवांग खेत पर पहुंचा तो राम उसे तालाब की तरफ ले गया, जहां खेमराज और नारान उसका इंतजार कर रहे थे. वहां पहुंचकर राम ने देवांग को जमीन पर गिरा लिया और फिर तीनों ने उसे रस्सी से बांध दिया. इसके बाद तीनों ने बेरहमी से देवांग को मारा. फिर तीनों ने देवांग के शव को ठिकाने लगाने का फैसला किया.

दोषियों ने देवांग के शव को एक बोरवेल में फेंकना चाहा लेकिन उसका मुंह काफी छोटा होने के कारण शव उसमें नहीं जा रहा था. इसके बाद वे पास के खेत से एक कुल्हाड़ी ले आए और देवांग के शव को 5 टुकड़ों में काट दिया. फिर शव के टुकड़े 400 फीट गहरे बोरवेल में फेंक दिए.

ये भी पढ़ें- सांसद का PA बता मांगी रिश्वत, स्पाई कैमरा लगाकर पहुंचा बिल्डर; फिर हुआ ये

जब अगले दिन 13 फरवरी, 2018 को देवांग अपने घर वापस नहीं लौटा तो उसके पिता मानेक गांडवी ने थाने में बेटे के लापता होने की शिकायत दर्ज करवाई. फिर पुलिस ने कॉल रिकॉर्ड्स के आधार पर राम, खेमराज और नारन को गिरफ्तार किया. पूछताछ के दौरान तीनों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया और बताया कि शव को कहां छिपाया. जान लें कि 400 फीट गहरे बोरवेल से देवांग के शव को निकालने में 6 दिन लगे.

Trending news