शिक्षा मंत्रालय इस सप्ताह जारी करेगा JEE NEET और CUET 2023 का शेड्यूल, जानें पूरी डिटेल
topStories1hindi1472995

शिक्षा मंत्रालय इस सप्ताह जारी करेगा JEE NEET और CUET 2023 का शेड्यूल, जानें पूरी डिटेल

JEE Main NEET CUET 2023 Schedule: इस समय एक कमिटी एग्जाम कैलेंडर को अंतिम रूप देने में लगी हुई है. बता दें वार्षिक कैलेंडर बनने से छात्रों को विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी की रणनीति बनाने में बेहद आसानी होगी.  

शिक्षा मंत्रालय इस सप्ताह जारी करेगा JEE NEET और CUET 2023 का शेड्यूल, जानें पूरी डिटेल

JEE Main NEET CUET 2023 Schedule: जेईई मेन (JEE Main), नीट (NEET) और सीयूईटी (CUET) 2023 की प्रवेश परीक्षा के शेड्यूल का इंतजार कर रहे छात्रों के लिए अच्छी खबर है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शिक्षा मंत्रालय की ओर से इस सप्ताह इंजीनियरिंग एंट्रेस एग्जाम JEE Main 2023, मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम NEET 2023 और अंडरग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन के लिए आयोजित होने वाला एग्जाम CUET 2023 का शेड्यूल जारी कर दिया जाएगा. इसके अलावा नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) भी इस सप्ताह जेईई मेन के लिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस शुरू कर सकती है और साथ ही परीक्षा की तारीखों का ऐलान भी हो सकता है.

बता दें कि इस समय एक कमिटी एग्जाम कैलेंडर को अंतिम रूप देने में लगी हुई है. वहीं विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के आधिकारिक सूत्रों के जरिए यह खबर सामने आई है कि वार्षिक कैलेंडर बनने से छात्रों को विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी की रणनीति बनाने में आसानी होगी.

यहां देखें परीक्षा की संभावित तारीख
बता दें कि अधिकारियों द्वारा कहा गया था कि जेईई मेन के सेशन 1 (JEE Main 2023 Session 1) का आयोजन जनवरी 2023 के मध्य में किया जा सकता है. वहीं सीयूईटी यूजी (CUET UG 2023) की परीक्षाएं अप्रैल के तीसरे सप्ताह से लेकर मई के पहले सप्ताह तक आयोजित की जा सकती हैं. इसके अलावा मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम नीट 2023 (NEET 2023) का आयोजन मई के पहले रविवार को किया जा सकता है. हालांकि, बता दें परीक्षा की सही तारीखें एग्जाम के नोटिफिकेशन के जारी होने पर ही पता लगेंगी. 

छात्रों ने की यह मांग
जेईई मेन और नीट की परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों द्वारा मांग की गई थी की JEE Main के पहले सेशन की परीक्षा अप्रैल और दूसरे सेशन की परीक्षा मई में आयोजित की जाए. जबकि NEET 2023 के एग्जाम का आयोजन जून के महीने में करने की मांग की गई थी. हालांकि, अधिकारियों का इस मांग को लेकर कहना था कि ऐसा करने से अकादमिक सत्र (Accademic Session) अगस्त तक खिंच जाएगा और इस तरीके से उस छात्रों को ज्यादा दिक्कत होगी, जो तीनों प्रवेश परीक्षा में शामिल होने वाले हैं. उन छात्रों को लगातार बिना ब्रेक के एग्जाम देना होगा.

लाइव टीवी



Trending news