close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हॉरर किंग श्याम रामसे का निधन, बॉलीवुड को दिया था खौफ का अहसास

फिल्मों के अलावा श्याम और तुलसी ने टीवी के दर्शकों को 'जी हॉरर शो' भी दिया है...

हॉरर किंग श्याम रामसे का निधन, बॉलीवुड को दिया था खौफ का अहसास
फोटो साभार: Twitter@bollywoodlovers

नई दिल्ली: बॉलीवुड में हॉरर फिल्मों के मशहूर निर्माता श्याम रामसे का बुधवार को निधन हो गया, वह 67 साल के थे. खबरों के मुताबिक, वह न्यूमोनिया से जूझ रहे थे. श्याम, रामसे ब्रदर्स में से एक थे जिन्होंने 'वीराना', 'पुरानी हवेली' और 'अंधेरा' जैसी हॉरर फिल्में बनाई.

रामसे ब्रदर्स के सात भाइयों में श्याम के अलावा तुलसी, कुमार, केशु, अर्जुन, गंगू और करण हैं. फिल्मों के अलावा श्याम और तुलसी ने टीवी के दर्शकों को 'जी हॉरर शो' भी दिया है.

उनके निधन पर दुख व्यक्त करते हुए एक प्रशंसक ने लिखा, "रेस्ट इन पीस श्याम रामसे जी. आप और आपके परिवार की कहानी प्रेरणादायक है, जिस तरह से आपके पूरे परिवार ने साथ मिलकर हिंदी सिनेमा को एक नई शैली 'हॉरर' दी, उससे इंडस्ट्री में कई लोग प्रेरित हैं कि किस तरह से किसी ऐसी चीज पर काम करना चाहिए जिस पर बेशक यकीन किया जाता है."

किसी ने अपने बचपन के दिनों को याद करते हुए लिखा, "बचपन में मुझे भूत और हॉरर फिल्मों से डर लगता था, जबकि मेरे भाई-बहन इन्हें बिना पलक झपकाए देखा करते थे."

एक यूजर ने लिखा, "आरआईपी श्याम रामसे. मुझे आज भी जी हॉरर शो देखना याद है कि किस तरह से इसने मुझे डराया है."

श्याम रामसे (Shyam Ramsay) ने हिंदी सिनेमा में हॉरर फिल्मों के जरिए अपनी जबरदस्त पहचान बनाई है. उन्होंने अपने करियर के दौरान पुराना मंदिर (1984), अंधेरा (1975), सबूत (1980), पुरानी हवेली (1989), धुंध: द फॉग (2003) और कोई है जैसी कई फिल्में बनाई हैं. श्यामा रामसे के अलावा उनके भाई तुलसी ने वीराना फिल्म बनाई थी.

बॉलीवुड की और भी खबरें पढ़ें