close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Twitter पर भिड़े बॉलीवुड दिग्गज, जावेद अख्तर ने दी शेखर कपूर को मनोचिकित्सक से मिलने की सलाह

शेखर कपूर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि बंटवारे के बाद एक रिफ्यूजी की तरह जिंदगी की शुरुआत की थी. माता-पिता ने बच्चों की जिंदगी बनाने के लिए सबकुछ दिया लेकिन मैं हमेशा से बुद्धिजीवियों से डरता रहा. 

Twitter पर भिड़े बॉलीवुड दिग्गज, जावेद अख्तर ने दी शेखर कपूर को मनोचिकित्सक से मिलने की सलाह
जावेद अख्तर और शेखर कपूर (फोटो साभार: Instagram)

नई दिल्ली: बॉलीवुड सेलेब्स का सोशल मीडिया पर ट्रोल होना कोई नई बात नहीं है लेकिन इसी प्लेटफॉर्म पर सेलिब्रेटी का आपस में भिड़ जाना फैंस को हैरान कर देता है. बॉलीवुड के दिग्गज सेलेब्स ने ट्विटर पर कुछ ऐसा ही किया और उनके पोस्ट वायरल होते देर नहीं लगी. फिल्ममेकर शेखर कपूर का एक पोस्ट जावेद अख्तर को ऐसा नागवार गुजरा कि उन्होंने तुरंत उस पर रिप्लाई करते हुए शेखर को मनोचिकित्सक से मिलने की सलाह दे डाली. 

शेखर कपूर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि बंटवारे के बाद एक रिफ्यूजी की तरह जिंदगी की शुरुआत की थी. माता-पिता ने बच्चों की जिंदगी बनाने के लिए सबकुछ दिया लेकिन मैं हमेशा से बुद्धिजीवियों से डरता रहा. उन्होंने मुझे हमेशा छोटा महसूस करवाया. फिर अचानक से मेरी फिल्मों के बाद मुझे गले लगा लिया. मुझे आज भी उनसे डर लगता है. उनका प्यार करना मुझे सांप के काटने जैसा लगता है. आज भी रिफ्यूजी हूं.

ऋतिक की 'सुपर 30' देखकर भावुक हुए शेखर कपूर, बोले- 'नहीं थम रहे आंसू'

शेखर कपूर के इस ट्वीट के बाद जावेद अख्तर ने रिप्लाई करते हुए लिखा कि वो कौन से बुद्धिजीवी हैं जिन्होंने आपको गले लगाया और उनका गले लगाना आपको सांप काटने जैसा लगा? श्याम बेनेगल, आदूर गोपाल कृष्णा, राम चंद्र गुहा? सच में? शेखर साहब आप ठीक नहीं है. आपको मदद की जरूरत है. इस बात में कोई शर्म नहीं है जाइये किसी मनोचिकित्सक से मिल लीजिए.

इसके बाद भी जावेद अख्तर नहीं रूके और शेखर कपूर को जमकर झाड़ लगा दी. अपने अगले ट्वीट में जावेद अखतर ने लिखा कि आपका मतलब है कि आप अभी भी रिफ्यूजी हैं. इसका मतलब आपको अभी भी बाहर के व्यक्ति जैसा महसूस होता है और आपको ये भूमि अपनी नहीं लगती. अगर भारत में आपको रिफ्यूजी जैसा लग रहा है तो और कहां आपको ऐसा नहीं लगेगा, पाकिस्तान में? आपको ये मेलोड्रामा करना बंद देना चाहिए अमीर अकेले आदमी. 

जावेद अख्तर दो ट्वीट पोस्ट करने के बाद भी नहीं रूके और उन्होंने एक और पोस्ट लिखते हुए कहा कि आप अपने आप को बीते कल से निष्पक्ष और आने वाले से निर्भय बताते हैं. कहते हैं कि आप आज में जीते हैं. वहीं आप कह रहे हैं कि आपको बंटवारे के बाद रिफ्यूजी जैसा लग रहा है और आप आज भी रिफ्यूजी हैं. इन दोनों बातों में फर्क देखने के लिए किसी को ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं है. जावेद अख्तर के सवालों का शेखर कपूर ने अभी तक कोई जवाब नहीं दिया है. 

बॉलीवुड की और भी खबरें पढ़ें