Breaking News
  • उत्‍तर-पूर्वी दिल्‍ली के डीसीपी दफ्तर पहुंचे NSA अजित डोवल
  • हिंसा के बाद दिल्‍ली के हालात संभालने की जिम्‍मेदारी NSA को मिली
  • पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भगोड़ा घोषित

सैफ अली खान ने 'तानाजी' पर लगाया आरोप, 'India' पर कही ऐसी बात हो गए ट्रोल

तानाजी पर लगाए आरोप को लेकर लोग सवाल कर रहे हैं कि आप ये बात इतनी देर से क्यों बता रहे हैं? आपने पहले ये खुलासा क्यों नहीं किया. लोग इस बयान को लेकर सैफ की टाइमिंग पर भी सवाल उठा रहे हैं.

सैफ अली खान ने 'तानाजी' पर लगाया आरोप, 'India' पर कही ऐसी बात हो गए ट्रोल
फोटो साभार : इंस्टाग्राम

नई दिल्ली : बॉलीवुड स्टार अजय देवगन (Ajay Devgn) और सैफ अली खान (Saif Ali Khan) की फिल्म 'तानाजी : द अनसंग वॉरियर' (Tanhaji: The Unsung Warrior) बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त कमाई कर रही है. इसमें अजय और सैफ के किरदार को लोग काफी पसंद कर रहे हैं. इस बीच सैफ ने 'तानाजी' पर इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाया और खतरनाक बताया. साथ ही देश को लेकर भी ऐसी बात कह दी है कि वह ट्रोल हो गए हैं. 

पत्रकार अनुपमा चोपड़ा को दिए इंटरव्यू में सैफ ने कहा कि मेरा मानना है कि इंडिया की अवधारणा अंग्रेजों ने दी. शायद इससे पहले नहीं थी. यही सच्चाई है. इसे लेकर सैफ ट्रोल भी हो गए. सोशल मीडिया पर लोग सैफ को जवाब दे रहे हैं. लोग सैफ के इतिहास के ज्ञान पर सवाल उठा रहे हैं. 

एक यूजर यामिनी चतुर्वेदी ने लिखा- जब ब्रिटिश के आने तक इंडिया का कॉन्सेप्ट ही नहीं था तो उन्होंने 'ईस्ट इंडिया कंपनी' का नाम किसके नाम पर रखा था. कोई पूछे सैफ से.एक ने लिखा कि मुझे संदेह है कि उन्होंने कौन-से इतिहास की किताबें पढ़ी हैं. एक ने लिखा बॉलीवुड में सैफ समेत ऐसे बहुत से स्टार्स हैं, जिन्हें कोई जानकारी नहीं है, लेकिन कैमरे के सामने ज्ञान देने में वह सबसे आगे हैं. 

इसी इंटरव्यू में सैफ ने कहा कि 'तानाजी' में जो दिखाया गया है, वह इतिहास का हिस्सा नहीं है. ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ गलत है. मेरा रोल काफी दिलचस्प था. कुछ वजहों से मैं स्टैंड नहीं ले पाया. हो सकता है कि अगली बार मैं ऐसा न करूं. इतिहास क्या है, मुझे बखूबी पता है. फिल्म की व्यावसायिक सफलता के लिए इतिहास की गलत व्याख्या की गई. उन्होंने एक बातचीत का हवाला देते हुए कहा कि कबीर खान ने कहा था कि वह खराब अभिनय और ढीली स्क्रिप्ट बर्दाश्त कर लेंगे, लेकिन राजनीतिक नैरेटिव में व्यावसायिक सफलता के लिए इतिहास के तथ्यों के साथ छेड़छाड़ की छूट बर्दाश्त नहीं करेंगे.

तानाजी पर लगाए आरोप को लेकर लोग सवाल कर रहे हैं कि आप ये बात इतनी देर से क्यों बता रहे हैं? आपने पहले ये खुलासा क्यों नहीं किया. लोग इस बयान को लेकर सैफ की टाइमिंग पर भी सवाल उठा रहे हैं.साथ ही यह भी कह रहे हैं कि 'तानाजी' में सैफ का उतना नाम नहीं हुआ, जितना की अजय देवगन का. वह इसी की भड़ास निकाल रहे हैं.

सैफ अली खान ने इसी इंटरव्यू के दौरान कहा कि देश जिस दिशा की तरफ बढ़ रहा है, उससे लगता है कि ये सेक्युलर न रहे. हम लोग इसके लिए नहीं लड़ रहे, स्टूडेंट्स लड़ रहे हैं. इस तरह सैफ बिना नाम लिए जेएनयू छात्रों का समर्थन करते दिखे. दरअसल, दीपिका थोड़े दिन पहले जेएनयू गई थीं, जिसके बाद वह विवादों में आ गई थीं.

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें