क्या 'दम मारो दम' गाने के लिए Lata Mangeshkar थीं लोगों की पहली पसंद?

फिल्म 'हरे रामा हरे कृष्णा' के तीन गानों के लिए लता मंगेशकर लोगों की पहली पसंद थीं. 

क्या 'दम मारो दम' गाने के लिए Lata Mangeshkar थीं लोगों की पहली पसंद?
लता जी और आशा जी (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः गाना 'दम मारो दम' (Dum Maro Dum) आज भी लोगों को खूब पसंद आता है. जीनत अमान के अभिनय वाले इस गीत को आशा भोसले ने अपनी आवाज देकर अमर कर दिया था. आज भी इस गाने के खूब रीमेक बनते हैं. अब इस गाने को लेकर एक नया खुलासा हुआ है. दावा किया जा रहा है कि आशा भोसले (Asha Bhosle) के बजाय इस गाने को लता मंगेशकर से गंवाया जाना था, पर ऐसा नहीं हो पाया.

लता मंगेशकर थीं आरडी बर्मन की पहली पसंद
ऐसी खबर है कि संगीतकार राहुल देव बर्मन चाहते थे कि यह गीत लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) गाएं. आशा भोसले पर तो बहुत बाद में विचार किया गया था. बॉलीवुड हंगामा की एक रिपोर्ट के अनुसार, देव आनंद (Dev Anand) ही वह व्यक्ति थे, जिन्होंने आशा जी का नाम गाने के लिए सुझाया था.

ये भी पढ़ेंः KBC 12: Mrinalika बनीं इस सीजन की 25 लाख जीतने वाली पहली कंटेस्टेंट, जानिए क्या था वो सवाल

देव आनंद को अजीब लगा था यह गाना 
खबर में यह दावा है कि एक बार देव आनंद ने कहा था, ‘लता जी ने मेरी फिल्म ‘हरे रामा हरे कृष्णा’ में ‘फूलों का तारों का’, ‘हो रे घुंघरू’ और ‘कांची रे’ जैसे खूबसूरत गाने गाए हैं. गाना 'दम मारो दम' उनके लिए सही नहीं लगता.’ हालांकि बाद में यह सुनने में आया कि देव आनंद ने फिल्म के इस गाने को यह कहते हुए हटाना चाहा था कि उन्हें गाना फिल्म में अजीब लग रहा है. वह आरडी बर्मन थे, जिन्होंने अनुरोध किया कि अगर यह गाना फिल्म में नहीं लिया जाता है, तो इसे साउंडट्रैक का हिस्सा बनाए रखा जाए. आखिर में ‘दम मारो दम’ फिल्म का हिस्सा बना और यह बड़ा हिट साबित हुआ.
संयोग है कि 'दम मारो दम' आशा भोसले और आरडी बर्मन दोनों के करियर का सबसे सफल गाना साबित हुआ. अकसर संगीत समारोहों में आशा भोसले से इस गीत को गाने का अनुरोध किया जाता है.

pic

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें