Breaking News
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'लंबे गहरे सांस भरने और छोड़ने से शरीर के अंदर के सभी तंत्र ऊर्जावान हो जाते हैं.'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'जिसकी इम्युनिटी हाई होगी, उसे कोई रोग नहीं होगा'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '8 बजे नाश्ता, 12 बजे दोपहर का खाना, शाम को 8 बजे तक खाना खा लें'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'भगवान ने हमें इंसान बनाकर दुनिया की सबसे बड़ी दौलत दी है'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '6 घंटे की नींद जरूर पूरी करें और उससे ज्यादा सोएं भी नहीं'

COVID19: बचाव के लिए फेस शिल्ड कितना सुरक्षित है? यहां जानें वो बातें जो कोई नहीं बताएगा

 ज्यादातर डॉक्टर बचाव के लिए फेस शिल्ड (Face Shield) इस्तेमाल कर रहे हैं. इसके अलावा आपने फ्लाइटों में यात्रा करने वालों को भी फेस मास्क की जगह फेस शिल्ड इस्तेमाल करते देखा होगा.

COVID19: बचाव के लिए  फेस शिल्ड कितना सुरक्षित है? यहां जानें वो बातें जो कोई नहीं बताएगा

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण से बचाव के लिए आपको लगातार विभिन्न माध्यमों से जानकारी मिल रही है. अभी तक आपको सिर्फ फेस मास्क (Face Mask) और सैनिटाइजर (Sanitizer) से ही बचाव के बारे में बताया जा रहा है. लेकिन आपने देखा होगा कि ज्यादातर डॉक्टर बचाव के लिए फेस शिल्ड (Face Shield) इस्तेमाल कर रहे हैं. इसके अलावा आपने फ्लाइटों में यात्रा करने वालों को भी फेस मास्क की जगह फेस शिल्ड इस्तेमाल करते देखा होगा. आज हम आपको दे रहे हैं फेस शिल्ड के बारे में अहम जानकारी जो आपके लिए मददगार होगा.

फेस शिल्ड का उड़ता रहा है मजाक
आपको याद होगा कि कोरोना वायरस को महामारी घोषित किए जाने के बाद सोशल मीडिया में कुछ लोगों के फोटो वायरल हुए थे. इन तस्वीरों में लोग बचाव के लिए एक पानी के जग को मुंह में लगाकर बचाव कर रहे थे. इसके बाद ही आपने ज्यादातर डॉक्टरों और नर्सों को ऐसे ही प्लास्टिक के फेस शिल्ड के साथ देखना शुरू किया. हालांकि अभी भी हम में से ज्यादातर लोग कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सिर्फ फेस मास्क का ही इस्तेमाल कर रहे हैं.

कितना प्रभावी है फेस शिल्ड
2014 में एक शोध हुआ था. इसमें फ्लू से संक्रमित व्यक्ति के ठीक 18 इंच की दूरी पर फेस शिल्ड के साथ एक स्वस्थ व्यक्ति को खड़ा किया गया. शोध में पाया गया कि इतने करीब से खांसने पर फेस शिल्ड 96 प्रतिशत तक बचाव करने में सफल हुआ. इसी तरह किसी अन्य तरीके से वायरस को शरीर में घुसने से रोकने में ये फेस शिल्ड 97 फीसदी सफल रहा. पेडियाट्रिक इंफेक्शियस डिजीज एक्सपर्ट डॉ. फ्रैंक एस्पर का कहना है कि कोरोना वायरस से बचाव में सबसे बेहतर उपाय फेस शिल्ड ही हैं. दिखने में ये भले अजीब लगे लेकिन इस महामारी से बचाव में सबसे प्रभावी तरीका फेस शिल्ड ही हैं.

ये भी पढ़ें: घर बैठे चुटकी में कमा सकते हैं 10,000 रुपये, बस इस संस्था को देना है एक छोटा सुझाव

बचाव के लिए फेस मास्क या फेस शिल्ड
विशेषज्ञों का कहना है कि अगर आप ज्यादा भीड़भाड़ वाली जगह में जा रहे हैं तो आपको फेस मास्क की जगह फेस शिल्ड का इस्तेमाल करना चाहिए. फेस मास्क पहनने के बावजूद आपका हाथ मुंह और आखों को छू सकता है. लेकिन फेस शिल्ड आपको ऐसे किसी भी संक्रमण से बचाने के लिए ज्यादा प्रभावी साबित होगा.