कभी खाया है करौंदा, नहीं न, बड़े काम का है छोटा सा Karonda, फायदे जान कहेंगे 'अब तो खाना ही पड़ेगा'
X

कभी खाया है करौंदा, नहीं न, बड़े काम का है छोटा सा Karonda, फायदे जान कहेंगे 'अब तो खाना ही पड़ेगा'

करौंदा, सफेद और हल्के लाल और गुलाबी रंग के होते हैं. ये स्वाद में खट्टा होता है. ये गर्मियों के मौसम में होता है. आइए जानते हैं करौंदा हमारी हेल्थ के लिए कैसे फायदेमंद है.

कभी खाया है करौंदा, नहीं न, बड़े काम का है छोटा सा Karonda, फायदे जान कहेंगे 'अब तो खाना ही पड़ेगा'

Health Benefits of Karonda: करौंदा खाना सेहत के लिए काफी फायदेमंद है. यह एक खट्टा फल होता है जिसे अंग्रेजी में क्रेनबेरी कहते हैं. करौंदे को फल और सब्जी दोनों तरह से खाया जाता है. करौंदे के फलों का इस्तेमाल सब्जी और अचार के लिए किया जाता है. ये एक झाड़ी नुमा पौधा होता है. इसका वैज्ञानिक नाम कैरिसा कैरेंडस (Carissa carandus) है. 

दवा से भी ज्यादा फायदेमंद है दूध में पिसी हुई चिरौंजी, सर्दी-जुकाम से लेकर दूर करेगी शरीर की कमजोरी

करौंदा कई गुणों से युक्‍त है, इसे एंटीबॉयटिक का अच्‍छा स्रोत मानते हैं, साथ ही इसमें आयोडीन की भरपूर मात्रा भी होती है. इसका जूस भी पीना फायदेमंद है. अगर जूस पीने में कड़वा लगे तो इसमें शुगर भी मिला सकते हैं. चटनी, अचार और मुरब्बे के रूप में प्रयोग होने वाला करौंदा स्वाद के साथ ही सेहत के लिए भी होता है अच्छा. विटामिन सी से भरपूर इस फल का सेवन कई रोगों से छुटकारा दिलाता है.

पाए जाते हैं काफ़ी औषधीय गुण 
करौंदा की हमेशा हरी-भरी रहने वाली झाड़ी होती है. करौंदे का कच्चा फल कड़वा, खट्टा और स्वादिष्ट होता है. यह एक छोटा-सा फल है, पर इसमें काफ़ी औषधीय गुण पाए जाते हैं.  इसके फल, पत्तियों एवं जड़ की छाल औषधीय प्रयोग में लाई जाती है. करौदें के फल पकने के बाद काले पड़ जाते हैं. इस कारण इसको कृष्णपाक फल भी कहते हैं. उपचार के आधार से इसमें साइट्रिक एसिड और विटामिन सी समुचित मात्रा में पाया जाता है. इसमें कई सामान्य बीमारियों को नष्ट करने की अद्भुत क्षमता होती है.  

करौंदा, सफेद और हल्के लाल और गुलाबी रंग के होते हैं. ये स्वाद में खट्टा होता है. ये गर्मियों के मौसम में होता है. इसका इस्तेमाल चटनी, जैम और जूस के रूप में भी किया जाता है. आइए जानते हैं करौंदा हमारी हेल्थ के लिए कैसे फायदेमंद है.

पीरिएड के दर्द से तुरंत छुटकारा पाने के लिए पेनकिलर नहीं, अपनाएं ये घरेलू नुस्खे मिलेगी राहत

कैंसर को रोकने के लिए
करोंदा में प्रोंथोसाइनिडिन अधिक मात्रा में होता है. ये कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकता है. इसमें एंटी कैंसर गुण होते हैं. ये कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते हैं.

हड्डियों की मजबूती के लिए
करौंदा में कैल्शियम की मात्रा अधिक होता है. ये हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है.

ग्लोइंग Skin के लिए
ये त्वचा को निखारने का काम करते हैं. करौंदा में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं. इसलिए निखरी त्वचा के लिए भी आप इसका सेवन कर सकते हैं. ऐसे में आप शहद में दो चम्मच तेल मिलाएं और बाद में सादे पानी से धोएं. ऐसा करने से लाभ मिलेगा.

बाल बढ़ने के लिए
करौंदा में विटामिन सी और विटामिन ए होता है. ये बालों को बढ़ने में मदद करता है. इसके जूस का आप नियमित रूप से सेवन कर सकते हैं.आपके बालों को विटामिन मिलेगा और ये हेल्दी हो जाएंगे.

अच्छी नींद चाहिए तो रात में सोने से पहले दूध में मिलाएं एक चम्मच घी, फिर देंखे 7 जबरदस्त फायदे

वजन कम करने के लिए
करौंदा में फाइबर की मात्रा अधिक होती है. इसका सेवन करने से कई देर तक भरा हुआ महसूस होता है. इसके जूस का आप नियमित रूप से सेवन कर सकते हैं. ये वजन कम करने में मदद कर सकता है.

दिमाग होगा अच्छा
 ये बढ़ती उम्र से संबंधित समस्याएं जैसे एकाग्रता की कमी होना आदि को दूर करने में मदद करता है. करौंदा में फाइटोन्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं.इससे याद्दाश्त अच्छी होती है. क्योंकि करौंदे के अंदर एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं यह न केवल मेमोरी को तेज करते हैं बल्कि समझ को बढ़ाते हैं.

करौंदे का जूस मसूड़ों के लिए बहुत फायदेमंद 
करौंदा मुंह के रोगों को दूर करने में मदद करता है. करौंदे का जूस मसूड़ों के लिए बहुत फायदेमंद है. इसके रस का सेवन करने से मसूड़ों की समस्याएं दूर होती हैं. जिन लोगों में सांस की दुर्गंध की समस्या होती है या पायरिया का संक्रमण होता है, उनके लिए इसका किसी भी रूप में नियमित प्रयोग बहुत फायदा देता है.

हो जाएगी सब बीमारियों की छुट्टी, बस सुबह उठकर रोज खाएं मुठ्ठी भर भुने चने

 

दिल को रखे दुरुस्त
करौंदा का जूस दिल की बीमारियों में भी बहुत फायदा देता है.  इसके नियमित सेवन से कोलेस्ट्रॉल का स्तर संतुलित रहता है और हार्ट अटैक की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है.

शरीर की दुर्बलता करता है दूर
करौंदे के जड़ की छाल प्रकृति से कड़वी और गर्म होती है. यह कफ और वात को कम करने वाली, खांसी कम करने में सहायक, ज्यादा मूत्र होने की समस्या तथा सामान्य दूर्बलता को दूर करने में मदद करती है.

रात को पानी में भिगो दें 7 से 8 काली किशमिश, सुबह खाली पेट पिएं इसका पानी फिर देखिए कमाल

पाए जाते ये हैं पोषक तत्व
करौंदा पोषक तत्वों से भरपूर होता है इसमें प्रोटीन 1.1 से 2.2, विटामिन सी 1. 6 से 17 .9 मिलीग्राम प्रति 100 ग्राम और खनिज विशेष रूप से लोहा तत्व 39.1 मिलीग्राम प्रति 100 ग्राम कैल्शियम 21 मिलीग्राम प्रति 100 ग्राम फास्फोरस 38 मिलीग्राम प्रति 100 ग्राम पाया जाता है. 

दवा से भी ज्यादा फायदेमंद है दूध में पिसी हुई चिरौंजी, सर्दी-जुकाम से लेकर दूर करेगी शरीर की कमजोरी

WATCH LIVE TV

Trending news