Urinary Incontinence: कपड़ों में पेशाब निकलना हो जाएगा शुरू, अगर इन बातों पर नहीं दिया ध्यान
X

Urinary Incontinence: कपड़ों में पेशाब निकलना हो जाएगा शुरू, अगर इन बातों पर नहीं दिया ध्यान

urine leakage reasons: कपड़ों में यूरीन लीक होने की समस्या के पीछे होते हैं ये कारण, समय पर कर लें कंट्रोल...

Urinary Incontinence: कपड़ों में पेशाब निकलना हो जाएगा शुरू, अगर इन बातों पर नहीं दिया ध्यान

कई बच्चों को बिस्तर या कपड़ों में पेशाब करने की आदत (urine leakage in children) होती है. जो कि बड़े होने के साथ दूर हो जाती है. लेकिन वयस्क लोगों को भी कपड़ों में पेशाब निकलने की समस्या (urine leakage in adults) हो सकती है. जिसे यूरिनरी इनकॉन्टिनेंस (Urinary Incontinence) कहा जाता है. इस समस्या में पेशाब स्टोर करने वाले ब्लैडर पर आपका कंट्रोल (bladder weakness reason) खो जाता है और बिना चाहे कहीं भी पेशाब निकल जाता है.

कपड़ों में पेशाब निकलने की समस्या काफी शर्मिंदगी भरी होती है. इस शर्मिंदगी से बचने के लिए वयस्क लोग भी डायपर पहनने लगते हैं. लेकिन अगर आप नीचे दी हुई बातों (risk factors for urine leakage) पर ध्यान देंगे, तो कपड़ों में पेशाब निकलने की समस्या को पहले ही रोका जा सकता है.

कपड़ों में पेशाब निकलना : शारीरिक वजन पर दें ध्यान
मायोक्लिनिक के मुताबिक, शरीर का ज्यादा वजन होने पर यूरिनरी इनकॉन्टिनेंस (कपड़ों में पेशाब निकलना) का जोखिम (risk factors of urinary incontinence) बढ़ जाता है. क्योंकि, भारी-भरकम पेट और अतिरिक्त वजन के कारण ब्लैडर पर ज्यादा प्रेशर पड़ने लगता है. जिससे ब्लैडर व उसके आसपास की मसल्स कमजोर हो जाती हैं और छींकने या खांसने पर कपड़ों में पेशाब निकल जाता है. इसलिए अपने शरीर के वजन पर ध्यान दें और उसे अत्यधिक बढ़ने ना दें.

urinary incontinence : स्मोकिंग करें कंट्रोल
मायोक्लिनिक के मुताबिक, स्मोकिंग करना सिर्फ आपके फेफड़ों के लिए ही नुकसानदायक नहीं होता. बल्कि यह ब्लैडर को भी कमजोर करता है. धूम्रपान करने वाले लोगों में आगे चलकर कपड़ों में पेशाब निकलने की समस्या हो सकती है.

यूरिनरी इनकॉन्टिनेंस : कीगल एक्सरसाइज जरूर करें
उम्र बढ़ने व बच्चे को जन्म देने के कारण पेल्विक मसल्स कमजोर हो सकती हैं. ये वही मसल्स हैं, जो ब्लैडर और पेशाब की नली को सपोर्ट देती हैं. पेल्विक फ्लोर मसल्स के कमजोर होने पर भी पेशाब को रोके रखने की क्षमता कम हो सकती है. इसलिए आपको नियमित रूप से पेल्विक फ्लोर मसल्स को मजबूत बनाने वाली कीगल एक्सरसाइज करनी चाहिए.

कपड़ों में पेशाब निकलने की समस्या से बचाव
यूरिनरी इनकॉन्टिनेंस (कपड़ों में पेशाब निकलना) की समस्या से बचाव नहीं किया जा सकता. हालांकि, निम्नलिखित टिप्स अपनाकर इसका खतरा कम किया जा सकता है. जैसे-

  • पेल्विक फ्लोर एक्सरसाइज को रोजाना करें.
  • ब्लैडर को नुकसान पहुंचाने वाले कैफीन, एल्कोहॉल और एसिडिक फूड का सेवन कम करें.
  • धूम्रपान ना करें.
  • वजन संतुलित रखें.
  • पर्याप्त फाइबर खाएं. क्योंकि, कब्ज के कारण भी यूरिनरी इनकॉन्टिनेंस की समस्या हो सकती है.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.

Trending news