close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमेरिका ने किया अलर्टः ISIS के निशाने पर है भारत, एक आत्मघाती हमला पहले ही हो चुका है फेल

मेरिका ने पिछले दिनों ही आतंकी संगठन ISIS के सरगना अबू बक्र अल बगदादी (Abu Bakr al Baghdadi) को मौत के घाट उतार दिया था, लेकिन इन सब के बाद भी इसका खतरा अभी टला नहीं है.

अमेरिका ने किया अलर्टः ISIS के निशाने पर है भारत, एक आत्मघाती हमला पहले ही हो चुका है फेल
(फाइल फोटो)

नई दिल्लीः अमेरिका ने पिछले दिनों ही आतंकी संगठन ISIS के सरगना अबू बक्र अल बगदादी (Abu Bakr al Baghdadi) को मौत के घाट उतार दिया था, लेकिन इन सब के बाद भी इसका खतरा अभी टला नहीं है. हाल ही में इसकी जानकारी अमेरिका (America) के एक टॉप अधिकारी ने दी है. अमेरिका का दावा है कि भारत (India) भी इस्लामिक स्टेट के निशाने पर है. अधिकारियों के मुताबिक इस्लामिक स्टेट (ISIS) के खुरासान ग्रुप ने ही पिछले साल भारत पर आत्मघाती हमले की कोशिश की थी.

अमेरिकी सीनेटर के सवाल पर अमेरिका के राष्ट्रीय आतंक निरोधक सेंटर के कार्यकारी निदेशक रशेल ट्रैवर्स ने US (United States) सांसदों को बताया कि, 'ISIS के खुरासान ग्रुप यानी ISIS-K ने पिछले साल भारत में आत्मघाती हमले की कोशिश की थी. आईएस के सभी गुटों में से ISIS-K अमेरिका के लिए सबसे ज्यादा चिंता की बात है. यह आतंकी गुट प्रॉपेगैंडा फैला रहा है और IS के नए सरगना से अपना कनेक्शन भी जाहिर कर चुका है.' अमेरिकी सेनेटर मैगी हसन के सवाल के जवाब में ट्रैवर्स ने यह जानकारी दी

अमेरिका की PAK को फटकार, कहा - हाफिज़ सईद और मसूद अज़हर पर कड़ी कार्रवाई करो वर्ना...

अमेरिका के नेशनल इंटेलिजेंस डायरेक्टर ऑफिस में रशेल ट्रैवर्स ने कहा कि, आईएसआईएस (ISIS) के खुरासान ग्रुप ने पिछले साल भारत में आत्मघाती हमले का प्रयास किया था. इस आतंकी संगठन के सभी गुटों में से खुरासान ग्रुप (ISIS-K) अमेरिका के लिए चुनौती बना हुआ है और इस ग्रुप में शामिल 4 हजार से भी अधिक लोग हमारे लिए चिंता का विषय बन गए हैं. मैगी हसन के सवाल पर ट्रैवर्स ने आईएसआईस के खतरनाक मंसूबों से सबको अवगत कराया और भारत पर आने वाले खतरे के बारे में भी जानकारी दी.

अमरीका को ISIS की बदले वाली धमकी, बगदादी के बाद किया नए खलीफा का ऐलान

बता दें अमेरिका भी इन दिनों खुरासान ग्रुप को लेकर काफी परेशान है. आईएसआईएस-के की हमला करने की क्षमता पर रशेल ट्रैवर्स का कहना है कि, हसन ने अफागानिस्तान और पाकिस्तान का दौरा किया था. इस दौरान अमेरीकी दूतावास और सैनिकों ने उन्हें आईएसआईस-के के तेजी से बढ़ रहे खतरों के बारे में जानकारी दी थी. उन्होंने अपनी चिंताओं को साझा करते हुए बताया था कि ISIS-K एक बढ़ता खतरा है और हमारे देश पर हमला करना चाहता है.

ये भी देखें...