J&K: कश्मीरियों के करीब आ रहे Amit Shah, लोगों के साथ बैठकर चाय पीने की तस्वीर वायरल
X

J&K: कश्मीरियों के करीब आ रहे Amit Shah, लोगों के साथ बैठकर चाय पीने की तस्वीर वायरल

अपने जम्मू-कश्मीर दौरे के दूसरे दिन केंद्रीय मंत्री अमित शाह मकवाल बॉर्डर में अग्रिम इलाकों का दौरा करने गए. इस दौरान उन्होंने एक स्थानीय नागरिक के घर रुककर चाय भी पी.

J&K: कश्मीरियों के करीब आ रहे Amit Shah, लोगों के साथ बैठकर चाय पीने की तस्वीर वायरल

श्रीनगर: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) तीन दिन के जम्मू-कश्मीर (J&K) के दौरे पर हैं. अपनी यात्रा के दूसरे दिन यानी रविवार को उन्होंने जम्मू में कई योजनाओं का शिलान्यास किया. इसके बाद वे मकवाल बॉर्डर में अग्रिम इलाकों (Forward Areas) का दौरा करने गए, जहां उन्होंने सेना के जवानों से बातचीत की.

जनता के साथ बैठकर पी चाय

मकवाल (Makwal Border) पहुंचे शाह ने पूरे इलाके का दौरा किया, और लोगों से बातचीत कर उनकी परेशानियां जानने की कोशिश की. उन्होंने एक शख्स के घर पर रुककर चाय भी पी. इस दौरान की एक तस्वीर इस वक्त सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसे लोग खूब पसंद कर रहे हैं, और कमेंट्स कर अपने रिएक्शन दे रहे हैं.

2022 में युवाओं के लिए 5 लाख नौकरियां

शाह ने बताया कि सरकार का उद्देश्य जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद का सफाया करने और नागरिकों की हत्याओं पर रोक लगाने का है. उन्होंने कहा कि किसी को इस केंद्र शासित प्रदेश में शांति और विकास को बाधित नहीं करने दिया जाएगा, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिल में स्थान रखता है. उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में 12,000 करोड़ रुपये का निवेश आ चुका है और सरकार का उद्देश्य 2022 के अंत तक कुल 51,000 करोड़ रुपये का निवेश लाने का है, जिससे स्थानीय युवकों को 5 लाख नौकरियां मिलेंगी.

ये भी पढ़ें:- दुनिया के सबसे सूखे रेगिस्‍तान में खिले फूल, फोटो देखकर लोगों ने कहा- ये चमत्‍कार है

'विकास न होने के पीछे 3 परिवार जिम्मेदार'

रविवार दोपहर जम्मू के भगवती नगर में जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने कांग्रेस, नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) का नाम लिए बगैर कहा, 'पिछले सात दशक में जम्मू-कश्मीर का विकास नहीं कर पाने के लिए तीन परिवार जनता के प्रति जवाबदेह हैं.' रैली में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया. लोगों की तालियों और नारों के बीच गृह मंत्री ने कहा, 'मोदी के नेतृत्व में जम्मू-कश्मीर में विकास का नया चरण शुरू हो गया है, लेकिन नुकसान पहुंचाने वाले तत्वों की ओर से अड़चन पैदा करने की कोशिश की जा रही हैं. मैं यहां आपको यह विश्वास दिलाने आया हूं कि कोई अड़चन पैदा नहीं कर पाएगा और शांति तथा विकास को अवरुद्ध नहीं कर सकेगा.'

ये भी पढ़ें:- समीर वानखेड़े के सपोर्ट में आए केंद्रीय मंत्री, बोले- जाति की वजह से किया जा रहा टारगेट

'प्रधानमंत्री के दिल में बसता है जम्मू-कश्मीर'

शाह ने कहा, 'हम ऐसा माहौल बनाना चाहते हैं कि एक भी व्यक्ति की जान नहीं जाए और आतंकवाद का सफाया हो जाए. विकास का नया चरण शुरू हुआ है, जिसे कोई नहीं रोक सकता. जम्मू-कश्मीर प्रधानमंत्री के दिल में बसता है और उनकी सरकार में कोई अन्याय, भेदभाव या तुष्टीकरण नहीं होगा. जम्मू के लोगों को दरकिनार करने का समय समाप्त हो गया है और अब कश्मीर तथा जम्मू दोनों का साथ में विकास होगा. जम्मू ने कई साल तक भेदभाव का दंश झेला है. अब किसी के साथ अन्याय नहीं होगा और कश्मीर तथा जम्मू दोनों का साथ में विकास होगा और विकसित जम्मू-कश्मीर भारत को मजबूत करेगा.

LIVE TV

Trending news