close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पार्टी पर भरोसा जताने के लिये अन्नाद्रमुक ने मतदाताओं को कहा शुक्रिया

दोनों नेताओं ने कहा कि जिन 22 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हए उनमें से नौ पर और थेनी संसदीय सीट पर अन्नाद्रमुक को अपनी पसंद बताकर मतदाताओं ने उन लोगों की अनदेखी की है जिन्होंने पार्टी से “विश्वासघात” किया. 

 पार्टी पर भरोसा जताने के लिये अन्नाद्रमुक ने मतदाताओं को कहा शुक्रिया
ओ पनीरसेलवम और के पलानीस्वामी ने सोमवार को लोगों को धन्यवाद दिया.

चेन्नई: तमिलनाडु में नौ विधानसभा क्षेत्रों में हुए उपचुनाव में जीत हासिल करने के बाद अन्नाद्रमुक नेता ओ पनीरसेलवम और के पलानीस्वामी ने सोमवार को लोगों को धन्यवाद देते हुए कहा कि इस जीत से, दिवंगत जे जयललिता द्वारा बनाई गई “अच्छी सरकार” अब भी “बरकरार” है. 

दोनों नेताओं ने कहा कि जिन 22 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हए उनमें से नौ पर और थेनी संसदीय सीट पर अन्नाद्रमुक को अपनी पसंद बताकर मतदाताओं ने उन लोगों की अनदेखी की है जिन्होंने पार्टी से “विश्वासघात” किया. 

 

सत्ताधारी अन्नाद्रमुक का भविष्य इन 22 सीटों के नतीजों पर टिका हुआ था. इनमें से 18 सीटें दिनाकरन समर्थक अन्नाद्रमुक विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने के कारण खाली हुई थीं जिन्होंने 2017 में मुख्यमंत्री पलानीस्वामी के खिलाफ विद्रोह कर दिया था. ये विधायक अपने गुट का विलय पनीरसेलवम के नेतृत्व वाले धड़े के साथ करने से नाराज थे. 

पनीरसेलवम तब बागी धड़े का नेतृत्व कर रहे थे. अन्नाद्रमुक के समन्वयक पनीरसेलवम और संयुक्त समन्वयक पलानीस्वामी ने पार्टी के पक्ष में मतदान के लिये मतदाताओं का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि पार्टी संस्थापक दिवंगत एम जी रामचंद्रन और जयललिता ने जनता के फैसले को हमेशा भगवान का फैसला करार दिया. 

उन्होंने कहा, “हाल में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव और विधानसभा उपचुनाव में करोड़ों मतदाताओं ने पार्टी उम्मीदवारों और हमारे सहयोगियों के पक्ष में मतदान किया.” 

उन्होंने एक बयान में कहा, “खासतौर पर अम्मा द्वारा स्थापित यह सरकार पार्टी को शोलिंघूर, पाप्पेरीद्देपट्टी, हारूर, सुलूर, नीलाकोट्टाई, सत्तूर मनामदुरै, परामाकुडी और विलाथीकुलम विधानसभा सीटों पर मिली जीत के बाद बरकरार है.”