कैप्टन अमरिंदर की पाकिस्तानी मित्र के ISI से संबंध? डिप्टी सीएम बोले- जांच जरूरी
X

कैप्टन अमरिंदर की पाकिस्तानी मित्र के ISI से संबंध? डिप्टी सीएम बोले- जांच जरूरी

पंजाब के डिप्टी सीएम रंधावा ने दावा किया कि सिंह की लंबे समय से आलम के साथ मित्रता रही है और वह कई वर्षों तक भारत में रहीं और केंद्र सरकार ने समय-समय पर उनके वीजा को बढ़ाया. 

कैप्टन अमरिंदर की पाकिस्तानी मित्र के ISI से संबंध? डिप्टी सीएम बोले- जांच जरूरी

चंडीगढ़: पंजाब (Punjab) के डिप्टी सीएम सुखजिंदर सिंह रंधावा (Sukhjinder Singh Randhawa) का कहना है कि इस बात की जांच की जाएगी कि क्या पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) से पिछले कई वर्षों से मुलाकात करती रहीं पाकिस्तानी पत्रकार अरुसा आलम के पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से संबंध हैं या नहीं. इस पर सिंह ने कांग्रेस नेता पर पलटवार कर कहा कि रंधावा अब निजी हमले करने का प्रयास कर रहे हैं.

पुलिस महानिदेशक करेंगे जांच

डिप्टी सीएम ने कहा कि इस बात की जांच की जाएगी कि क्या आलम के ISI के साथ किसी भी तरह के संबंध हैं या नहीं और पुलिस महानिदेशक को इस मामले को देखने को कहा गया है. सिंह ने कहा कि आलम केंद्र की अनुमति के बाद पिछले 16 वर्षों से भारत की यात्रा कर रही थीं. पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार ने सिंह के हवाले से ट्वीट कर कहा, 'सुखजिंदर आप मेरी कैबिनेट में मंत्री थे. तब कभी भी आपसे अरुसा आलम को लेकर शिकायत करते नहीं सुना. आलम केंद्र की अनुमति लेकर पिछले 16 साल से भारत की यात्रा कर रही थीं. क्या आप ये आरोप लगा रहे हैं कि इस अवधि में केंद्र में राजग और कांग्रेस नीत यूपीए दोनों ही सरकारों की पाकिस्तानी आईएसआई से मिलीभगत रही?'

ये भी पढ़ें:- 'अंबानी, RSS के व्यक्ति की फाइल मंजूर करने का था दबाव, 300 करोड़ रिश्‍वत देने की हुई पेशकश'

वे भारत छोड़कर क्यों चली गईं?

रंधावा ने दावा किया कि सिंह की लंबे समय से आलम के साथ मित्रता रही है और वह कई वर्षों तक भारत में रहीं और केंद्र सरकार ने समय-समय पर उनके वीजा को बढ़ाया. रंधावा ने गुरुवार को जालंधर में संवाददाताओं से कहा कि पंजाब प्रदेश कांग्रेस में हुए हालिया घटनाक्रम के मद्देनजर सिंह के पद से हटने के बाद आलम वापस पाकिस्तान चली गईं. उन्होंने कहा, 'अरुसा करीब साढ़े चार साल भारत में रहीं और समय-समय पर उनका वीजा बढ़ाया गया. दिल्ली ने उनका वीजा रद्द क्यों नहीं किया? जब हम अमरिंदर सिंह के खिलाफ गए, तब वह भारत छोड़कर क्यों चली गईं?'

ये भी पढ़ें:- इस साल दिल्ली-एनसीआर की हवा हो सकती है सबसे दमघोंटू, जानिए वजह

कैप्टन को देने होंगे सवालों के जवाब

उप मुख्यमंत्री ने कहा, ' मुझे लगता है कि इन सभी चीजों की जांच किए जाने की जरूरत है और कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी इन सवालों के जवाब देने होंगे.' इस पर पलटवार करते हुए सिंह ने कहा, 'सुखजिंदर रंधावा, तो अब आप निजी हमले कर रहे हैं. एक महीने पदभार संभालने के बाद अब आपके पास यही सब है लोगों को दिखाने के लिए. बरगारी और मादक पदार्थ मामलों को लेकर किए गए बड़े-बड़े वादों का क्या हुआ?'

LIVE TV

Trending news