close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोस्‍ट गार्ड ने समुद्री जहाज से बरामद की 1160 किलो प्रतिबंधित ड्रग्‍स, 6 गिरफ्तार

कोस्‍ट गार्ड द्वारा संदिग्‍ध समुद्री जहाज से बरामद की गई प्रतिबंधित ड्रग्‍स की अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कीमत करीब 300 करोड़ रुपए आंकी है.

कोस्‍ट गार्ड ने समुद्री जहाज से बरामद की 1160 किलो प्रतिबंधित ड्रग्‍स, 6 गिरफ्तार
संदिग्‍ध समुद्री जहाज को केटामाइन नामक मादक पदार्थ थाईलैंड बार्डर तक पहुंचाने की जिम्‍मेदारी दी गई थी.

नई दिल्‍ली: इंडियन कोस्‍ट गार्ड ने प्रति‍बंधित ड्रग्‍स की तस्‍करी की बड़ी कोशिश को नाकाम किया है. दरअसल, इंडियन कोस्‍ट गार्ड ने कार निकोबार द्वीप के पास एक मालवाहक समुद्री जहाज को अपने कब्‍जे में लिया है. जिसके भीतर से 1160 किलो प्रतिबंधित दवाएं बरामद की गई है. इंडियन कोस्‍ट गार्ड ने कब्‍जे में लिए गए समुद्री जहाज में मौजूद सभी 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. 

इस कार्रवाई से जुड़े एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि इंडियन कोस्‍ट गार्ड शिप राजवीर ने एक कार निकोबार द्वीव से गुजर रहे एक एक मालवाहक समुद्री जहाज को अपने कब्‍जे में लिया है. 19 सितंबर को हुई इस कार्रवाई के दौरान समुद्री जहाज से 1160 किलो केटामाइन नामक मादक पदार्थ बरामद किया गया है. जिसकी कीमत अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में करीब 300 करोड़ रुपए है. 

यह भी पढ़ें: भारत, अमेरिका के तटरक्षकों ने चेन्नई तट पर संयुक्त अभ्यास में हिस्सा लिया

उन्‍होंने बताया कि इंडियन कोस्‍ट गार्ड का एयरक्राफ्ट 18 सितंबर को अपनी रूटीन गश्‍त पर निकला हुआ था. गश्‍त के दौरान, एयरक्राफ्ट में मौजूद कोस्‍ट गार्ड के अधिकारियों ने एक ऐसे मालवाहक समुद्री जहाज को चिन्हित किया, जो भारतीय इकोनॉमिक जोन में ऑपरेट हो रहा था और वह कोस्‍ट गार्ड द्वारा दिए जा रहे वीजीएफ सिंग्‍नल का लगातार जवाब नहीं दे रहा था.

LIVE TV..

यह भी पढ़ें: दिल्ली मेट्रो में केमिकल अटैक का मॉक ड्रिल, देखें सुरक्षा एजेंसियों ने कैसे संभाला मोर्चा

जिसके बाद, इंडियन कोस्‍ट गार्ड शिप राजवीर को कार्रवाई करते हुए संदिग्‍ध मालवाहक समुद्री जहाज को इंटरसेप्‍ट करने के लिए रवाना किया गया. आईसीजीएस राजवीर ने 19 सितंबर की रात्रि करीब 9 बजे निकोबाद दीव के समीप इस संदिग्‍ध मालवाहक समुद्री जहाज को घेर लिया, बावजूद इसके यह संदिग्‍ध समुद्री जहाज लगातार मौके से भागने की कोशिश करता रहा. 

लंबी जद्दोजहद के बाद, भारतीय कोस्‍ट गार्उ शिप राजवीर इस संदिग्‍ध समुद्री जहाज को रोकने में कामयाब रहा. आईसीजीएस राजवीर में मौजूद कोस्‍ट गार्ड कमांडोज की एक यूनिट इस संदिग्‍ध जहाज में दाखिल हुई और उसे पूरी तरह से अपने कब्‍जे में ले लिया. पूछताछ के दौरान पता चला कि यह जहाज 14 सितंबर को म्‍यांमार के डमसन वे से रवाना हुआ. 

पूछताछ में यह बात भी सामने आई कि इस संदिग्‍ध समुद्री जहाज को 21 सितंबर तक थाईलैंड-म्‍यांमार मरीन बार्डर पर पहुंच कर ड्रग्‍स की डिलीवरी देनी थी. तलाशी के दौरान, इस संदिग्‍ध समुद्री जहाज से 57 बोरियां बरामद की गई. जिनके अंदर प्रतिबंधित केटामाइन नामक मादक पदार्थ भरा हुआ था. कोस्‍ट गार्ड ने इस मादक पदार्थ को कब्‍जे में लेने के बाद संदिग्‍ध समुद्री जहाज में मौजूद सभी छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.