उत्तर भारत: ठंड की ठिठुरन बरकरार, कोहरे से राहत, 30 से ज्यादा ट्रेनें लेट

दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार में तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है साथ ही कोहरे ने भी इन राज्यों को अपनी चपेट में ले लिया है.

उत्तर भारत: ठंड की ठिठुरन बरकरार, कोहरे से राहत, 30 से ज्यादा ट्रेनें लेट
फाइल फोटो

नई दिल्ली: ठंड के कहर ने इस बार पिछले कई सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) समेत पूरे उत्तर भारत में जहां ठंड का कहर जारी है. वहीं दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार में तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है साथ ही कोहरे ने भी इन राज्यों को अपनी चपेट में ले लिया है. राजधानी दिल्ली की बात करें तो मंगलवार को कोहरे से राहत मिली हालांकि कड़कड़ाती ठंड आज भी है. दिल्ली में सुबह साढ़े पांच बजे हल्के कोहरे के साथ तापमान 5.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. 

पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में घना कोहरा छाया हुआ है जबकि बिहार के कई जिले भी कोहरे की चपेट में हैं. उधर, पंजाब, चंडीगढ़, पश्चिमी राजस्थान, हरियाणा के कुछ जिले, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हल्का कोहरा है. 

ट्रेनें लेट, उड़ानों पर असर नहीं 
मौसम विभाग की मानें तो अगले दो से तीन दिनों में दिल्ली-एनसीआर में बारिश हो सकती है. उत्तर भारत में घने कोहरे के कारण 30 से 35 ट्रेनें देरी से चल रही हैं. हवाई यात्रा करने वालो के लिए आज राहत भरा दिन है क्योंकि कोहरा कम है इसलिए उड़ानों की आवाजाही पर कोई असर नहीं पड़ा है. 

ये भी पढ़ें: -40 डिग्री से ZEE NEWS की रिपोर्ट, जानें खून जमा देने वाली ठंड में सेना कैसे करती है देश की हिफाजत

टूटा इतने वर्षों का रिकॉर्ड
आपको बता दें इस साल दिसंबर महाना साल 1901 से लेकर अब तक साल 2019 का दिसंबर दूसरा सबसे सर्द दिसंबर रहा. दिसंबर महीने के औसत अधिकतम तापमान के लिहाज से दिसंबर 1997 के बाद 2019 का दिसंबर सबसे सर्द दिसंबर है. 1901 के बाद से 1919, 1929, 1961, 1997 में दिसंबर महीने का औसत अधिकतम तापमान 20 डिग्री और उस से कम दर्ज हुआ. सबसे कम 17.3 डिग्री दिसंबर   1997  में दर्ज किया गया.

इस दिसंबर महीने का औसत अधिकतम तापमान 19 डिग्री से भी कम है. 30 दिसंबर को ये औसत तापमान 18.76 डिग्री रिकॉर्ड किया गया. मौसम विभाग का कहना है कि 31 दिसंबर को अगर अधिकतम तापमान 30 डिग्री भी चला जाए तब भी सदी के दूसरे सबसे सर्द दिसंबर के इस रिकॉर्ड को नुकसान नहीं पहुंचा सकता.

दिसंबर महीने का औसत अधिकतम तापमान साल 1919 और 1929 में 19.8 डिग्री दर्ज किया गया था, वहीं साल 1961 में 20 डिग्री और फिर साल 1997 में सबसे कम 17.3 डिग्री दर्ज किया गया था. साथ ही अधिकतम तापमान के लिहाज से साल 1901 के बाद सोमवार सदी के दिसंबर का सबसे ठंडा दिन भी रहा. जब अधिकतम तापमान सिंगल डिजिट में 9.4 डिग्री दर्ज किया गया.  

इसी के साथ कल (30 दिसंबर) 22 साल में दिसंबर में कोल्ड और सीवियर कोल्ड दिनों का भी रिकॉर्ड बराबर हो गया. 1997 में दिसंबर में 17 सीवियर कोल्ड और कोल्ड दिन थे. इस साल सोमवार को 14 दिसंबर से अब तक 17 दिन हो गए हैं. हालांकि 1997 में ये लगातार नहीं हुआ था. लेकिन इस बार 17 दिन लगातार ऐसे दिन रहे. 1997 में 13 दिन का कोल्ड और सीवियर कोल्ड दिनों का लगातर स्पेल  का रिकॉर्ड था. 22 साल का ये रिकॉर्ड भी ध्वस्त हो चुका है.