तय समय से पहले ही खत्म हो सकता है संसद का मानसून सत्र, ये है कारण

सूत्रों के अनुसार, BAC की बैठक में मौजूद लोक सभा की सभी प्रमुख पार्टियों के फ्लोर लीडर ने भी फैसले को मंजूरी दी है.

तय समय से पहले ही खत्म हो सकता है संसद का मानसून सत्र, ये है कारण

नई दिल्ली: कोरोना (Coronavirus) महामारी के चलते इस बार संसद का मानसून सत्र (Monsoon Session) समय से पहले ही खत्म कर दिया जाएगा. लोक सभा स्पीकर ओम बिरला (Om Birla) की अध्यक्षता में आज शाम हुई बिजनेस एडवाइजरी कमेटी (BAC) की अर्जेंट मीटिंग में इस फैसले पर सहमति बन गई है. सूत्रों के अनुसार, बैठक में मौजूद लोक सभा की सभी प्रमुख पार्टियों के फ्लोर लीडर ने भी फैसले को मंजूरी दी है.

आज सुबह भी संसद में सरकार और विपक्ष में इस मुद्दे को लेकर चर्चा हुई थी. सत्र के दौरान दो मंत्री और एक बीजेपी सांसद के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद से ही लगातार ये मांग उठ रही है. जिसपर आज विचार किया जा सकता है. वहीं ये कयास लगाए जा रहे हैं कि अगले सप्ताह मंगलवार या बुधवार को संसद के समाप्त होने की घोषण हो सकती है. 

ये भी पढ़ें:- चीन के लिए जासूसी करने वाला स्वतंत्र पत्रकार गिरफ्तार, ग्लोबल टाइम्स को भेजी खुफिया जानकारियां

गौरतलब है कि बीजेपी सांसद विनय सहस्त्रबुद्धे द्वारा राज्य सभा में दिए भाषण के बाद उनमें कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी. हालांकि सत्र शुरू होने से पहले की गई जांच में नेगेटिव पाए गए थे. इसी तरह नितिन गडकरी और प्रह्लाद पटेल भी बाद में सत्र के बाद कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. कोरोना के इसी प्रकोप के चलते आज उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी चिंता व्यक्त करते हुए माननीयों से बचाव के हर संभव उपायों को अपनाने की अपील की. 

वहीं सरकार की कोशिश है कि 11 अध्यादेश को बिल के रूप में पारित करा लिया जाए. जिसके लिए एक नया निर्देश जारी करना पड़ा है. इसके तहत संसद में शामिल होने वाले हर शख्स को कोरोना का नियमित टेस्ट कराना होगा. इसके बाद ही उन्हें संसद में दाखिल होने की अनुमति मिलेगी. ये नियम पत्रकारों पर भी लागू होता है.

LIVE TV