Corona Update: दिल्ली में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, 161 और लोगों की मौत; 24 घंटे में 25,462 नए केस

दिल्ली में कोरोना (Coronavirus Delhi) की रफ्तार बढ़ती जा रही है. कोरोना के नए मामलों ने पुराने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. बीते 24 घंटे में दिल्ली में 25,462 नए केस मिले हैं. 

Corona Update: दिल्ली में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, 161 और लोगों की मौत; 24 घंटे में 25,462 नए केस
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में एक बार फिर कोरोना (Coronavirus) के नए मामलों ने पुराने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. बीते 24 घंटे में दिल्ली में 25,462 नए केस मिले हैं. 161 और लोगों ने कोरोना से दम तोड़ दिया है. दिल्ली में फिलहाल 74,941 एक्टिव केस हैं. वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने बेकाबू हालात पर चिंता जताई है.

ऑक्सीजन की कमी

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है, ऑक्सीजन की बेहद कमी का सामना करना पड़ रहा है. सामान्य आपूर्ति काफी कम कर दी गई है और इसका कोटा अन्य राज्यों को भेजा जा रहा है. राजधानी दिल्ली में कोरोना के चलते बेकाबू हुए हालातों के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को चिट्ठी भी लिखी है.

7 हजार बेड रिजर्व किए जाने की मांग

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को भेजे पत्र में लिखा है कि दिल्ली में ऑक्सीजन की भारी कमी हो रही है. साथ ही उन्होंने केंद्र के अस्पतालों में 7 हजार बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व किए जाने की मांग की है. सीएम केजरीवाल ने ऑक्सीजन की तुरंत सप्लाई देने की मांग की है.

गेटबंद कॉलोनियों में होंगे कोविड सेंटर

बढ़ते संक्रमण के बीच दिल्ली सरकार ने Covid-19 की सुविधाओं के लिए गेटबंद कॉलोनियों के अलग से निर्देश जारी किए हैं. आरडब्ल्यूए, रेजीडेंसियल सोसाइटियों और गैर-सरकारी संगठनों (NGO) के लिए भी गेटबंद कॉलोनियों में कोविड-19 के प्रकोप को नियंत्रित करने के लिहाज से दिशानिर्देश जारी किये हैं. इस निर्देश में कहा गया है, RWA और सोसाइटियों व एनजीओ के संसाधनों का इस्तेमाल कर कोविड देखभाल के लिए सुविधाएं स्थापित की जाएंगी.

ये भी देखें-

यह भी पढ़ें: Corona मरीजों को 'लाइफ सपोर्ट' देगा रेलवे, चलाने जा रहा Oxygen Express 

इन संक्रमितों की विशेष देखभाल

दिशानिर्देशों में यह भी कहा गया है कि ये सुविधाएं बुजुर्गों, 10 साल से कम उम्र के बच्चों, प्रेग्नेंट लेडी और अन्य रोगों से ग्रसित मरीजों के लिए नहीं होंगी और ऐसे रोगियों को अलग कोविड सेंटर में भर्ती कराया जाएगा. आदेश में कहा गया है कि रेजीडेंसियल कॉलोनी में बनाये गये ये सेंटर अस्थायी होंगे.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.