close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

CRPF की कोबरा कमांडो टीम ने ढेर किए 3 नक्‍सली, बरामद हुआ हथियारों का जखीरा

सीआरपीएफ की कोबरा कमांडो टीम ने इस ऑपरेशन में नक्‍सलियों के कैप को भी ध्‍वस्‍त कर दिया है. 

CRPF की कोबरा कमांडो टीम ने ढेर किए 3 नक्‍सली, बरामद हुआ हथियारों का जखीरा
सीआरपीएफ के कमांडोज को निशाना बनाने के लिए नक्‍सलियों ने कैंप में तीन आईईडी लगाए थे, जिन्‍हें सफलतापूर्वक डिफ्यूज कर दिया गया है.

नई दिल्‍ली: बिहार और झारखंड की सीमा पर बसे गया जिले के अंतर्गत आने वाले चकरबंधा के जंगलों में सीआरपीएफ की कोबरा कमांडो और नक्‍सलियों के बीच  एक बड़ी मुठभेड़ हुई है. मुठभेड़ के दौरान, सीआरपीएफ की कोबरा कमांडो टीम ने न केलव 3 नक्‍सलियों को मार गिराया है, बल्कि नक्‍सलियों के कैंप को ध्‍वस्‍त कर दिया है. इस ऑपरेशन में शामिल सीआरपीएफ के सभी कमांडो सुरक्षित है. 

सीआरपीएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, मुठभेड़ में मारे गए तीनों नक्‍सलियों की शिनाख्‍त अभी तक इनहीं हो सकी है. स्‍थानीय पुलिस की मदद से नक्‍सलियों के शवों की शिनाख्‍त का प्रयास किया जा रहा है. उन्‍होंने बताया कि मुठभेड़ के बाद मौके से भारी तादाद में हथियार भी बरामद किए गए हैं. जिसमें एके-47, 3 इंसास, 303 राइफल, कार्बाइन राइफल और बर्मन राइफल बरामद की गई हैं.

नक्‍सलियों की तलाश में लगातार 72 घंटे चला सर्च ऑपरेशन
सीआरपीएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, 22 जुलाई को नक्‍सलियों की मौजूदगी के बाबत एक इंटेलीजेंस इनपुट मिला था. इस इंटेलीजेंस इनपुट के आधार पर सीआरपीएफ की 205 कोबरा कमांडो की टीम को नक्‍सलियों की तलाश के लिए रवाना किया गया. इस सर्च ऑपरेशन के दौरान सीआरपीएफ कमांडोज के सामने दो चुनौतियां थी. पहली चुनौती नक्‍सलियों के एम्‍बुस को नाकाम करना और दूसरी चुनौती अपने ऑपरेशन की गोपनीयता को बनाए रखना था.  

चकरबंधा के जंगलों में सीआरपीएफ के घेरे में आए नक्‍सली
सीआरपीएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि रास्‍ते में आने वाली तमाम अड़चनों को दूर कर कोबरा कमांडो चकरबंधा के जंगल में नक्‍सलियों को खोजने में कामयाब रहे. कोबरा कमांडो की टीम नक्‍सलियों के कैंप की तरफ बढ़ ही रहे थे, तभी कैंप से कुछ दूर मौजूद एक नक्‍सली की निगाह सीआरपीएफ के कमांडोज पर पड़ गई. जिसके बाद, उसने सीआरपीएफ के कमांडोज पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाना शुरू कर दी. 

LIVE TV:

करीब आधा घंटे चली सीआरपीएफ से नक्‍सलियों की मुठभेड़ 
सीआरपीएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि फा‍यरिंग की आवाज सुनकर बाकी नक्‍सली भी कैंप से बाहर आ गए और सीआरपीएफ के कमांडोज पर फायरिंग करने लगे. इस फायरिंग का जवाब देते हुए कमांडोज ने पूरे कैंप की घेरेबंदी कर ली. दोनों तरफ से करीब आधे घंटे तक लगातार गोलीबारी जारी रही. जिसमें सीआरपीएफ तीन नक्‍सलियों को मार गिराने में कामयाब रही.