समंदर में मशीन गन से तड़ातड़ गोलियां दागते नजर आए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, देखें VIDEO

केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह समंदर में मशीन गन चलाते हुए भी नजर आए हैं. सिंह ने आईएनएस विक्रमादित्य में मशीन गन थामी और तड़ातड़ गोलियां दागी.

समंदर में मशीन गन से तड़ातड़ गोलियां दागते नजर आए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, देखें VIDEO
राजनाथ के मशीन गन से फायरिंग करने का वीडियो भी सामने आया है.

गोवा: केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह समंदर में मशीन गन चलाते हुए भी नजर आए हैं. सिंह ने आईएनएस विक्रमादित्य में मशीन गन थामी और तड़ातड़ गोलियां दागी. राजनाथ के मशीन गन से फायरिंग करने का वीडियो भी सामने आया है. वह शनिवार को आईएनएस विक्रमादित्‍य (INS Vikramaditya) पर गोवा पहुंचे थे और रातभर यहीं रुके. इस दौरान, उन्होंने पनडुब्बियों, फ्रिगेट्स और वाहक सहित विभिन्न सैन्य अभ्यासों को देखा. उन्‍होंने मशीन गन पर भी अपने हाथ आजमाए. सिंह ने गोवा में आईएनएस विक्रमादित्य पर सुरक्षाकर्मियों के साथ योग भी किया. 

रक्षामंत्री सिंह ने विमान वाहक आईएनएस विक्रमादित्य में दौरे की तस्वीरों को ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा, "आईएनएस विक्रमादित्य में 24 घंटे का समय गुजारा. यह एयरक्राफ्ट कैरियर समंदर का सिकंदर है." 

 

 

इस दौरान राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत 26/11 हमले को कभी भूल नहीं सकता है. उन्होंने कहा कि हमने जो पहले गलतियां की है, उसे अब नहीं दोहराएंगे. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि देश की समुद्री सीमाओं पर आतंकी हमले का खतरा आज भी बरकरार है. उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बिना कहा कि इस साजिश के पीछे एक पड़ोसी मुल्क की साजिश है और वो भारत को अस्थिर करना चाहता है, लेकिन उसका मंसूबा कामयाब नहीं होने दिया जाएगा.

इससे पहले, शनिवार को रक्षा मंत्री ने इस दौरान भारत का पहला पी-17 शिवालिक-क्लास युद्धक पोत नीलगिरी और विमान कैरियर ड्राईडॉक को भी भारतीय नौसेना में शामिल किया. नौसेना ने कहा कि इन तीनों के शामिल होने से समुद्र में देश की युद्धक क्षमता काफी बढ़ गई है. आईएनएस खंडेरी पी-75 परियोजना के अंतर्गत नौसेना में शामिल होने वाली दूसरी युद्धक पनडुब्बी है. इससे पहले 2017 में एक और पनडुब्बी आईएनएस कावेरी नौसेना में शामिल हो चुकी है.