दिल्‍ली: मामूली झगड़े के बाद पड़ोसी ने किया महिला का मर्डर, पति और बेटे को भी किया घायल

आरोपी की पहचान मोहम्मद आजाद के तौर पर हुई है. उसने परिवार के सदस्यों पर कई बार चाकू से वार किया और मौके से फरार हो गया.

दिल्‍ली: मामूली झगड़े के बाद पड़ोसी ने किया महिला का मर्डर, पति और बेटे को भी किया घायल
पश्चिमी दिल्‍ली के ख्‍याला इलाके में हुई घटना. फोटो ANI

नई दिल्ली : पश्चिम दिल्ली के ख्याला में मामूली झगड़ा होने पर एक पड़ोसी ने बुधवार को एक महिला की कथित रूप से चाकू घोंपकर हत्या कर दी जबकि उसके पति और एक नाबालिग बेटे को गंभीर रूप से जख्मी कर दिया. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आरोपी की पहचान मोहम्मद आजाद के तौर पर हुई है. उसने परिवार के सदस्यों पर कई बार चाकू से वार किया और मौके से फरार हो गया.

पुलिस ने बताया कि मृतका की शिनाख्त सुनीता के तौर पर हुई है. घायलों में 41 वर्षीय वीरू और आकाश हैं. पुलिस ने कहा कि शाम करीब साढ़े सात बजे मामूली मसले पर इलाके में रहने वाली सुनीता और आरोपी का झगड़ा हो गया. महिला ने इसकी जानकारी अपने पति और बेटे को दी. वे भी आरोपी का मुकाबला करने के लिए पहुंचे गए. इसके बाद आरोपी ने उनपर चाकू से कई बार वार किया.


दिल्‍ली के ख्‍याला में हुई घटना. फोटो ANI

दिल्ली के ख्याला इलाके में बुधवार शाम तकरीबन 7:30 बजे दो पड़ोसियों के बीच मामूली बात पर झगड़ा हुआ. यह झगड़ा अगले दिन तक बढ़ गया. पुलिस सूत्रों के मुताबिक करीब 4 दिन पहले सुनीता के बच्चे की बोतल आरोपी मोहम्मद आज़ाद के पास गिर गई थी और इस बात पर ज़बरदस्त झगड़ा हुआ था. बुधवार को फिर इसी बात पर आरोपी आजाद नाम के शख्स का झगड़ा उसके घर के सामने रहने वाली सुनीता से हो गया. मामूली बात पर झगड़ा था और इसके बाद सुनीता ने झगड़े की खबर अपने घरवालों को दी. इसके बाद सुनीता के पति वीरू(45) और सुनीता(35) का बेटा आकाश(18) घर से बाहर निकले, लेकिन इसी बीच आरोपी आजाद ने चाकू से सुनीता उसके पति वीरू और बेटे आकाश पर ताबड़तोड़ वार शुरू कर दिए.

बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले सुनीता और आजाद का किसी मामूली बात पर झगड़ा हुआ था और आज फिर झगड़ा आगे बढ़ गया, जिसके बाद आजाद ने चाकू से वार शुरू कर दिए। सुनीता की मौके पर ही मौत हो गई जबकि उसके पति वीरू के ऊपर चाकू से इतने वार किए गए कि उसकी पेट की आंतें तक बाहर आ गयी. वारदात की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया, जहां उनकी हालत नाजुक बनी हुई है.

पुलिस का कहना है कि आरोपी आजाद की तलाश की जा रही है जो कि मौके से फरार हो गया था. पुलिस का कहना है कि आरोपी आजाद का अपनी पत्नी से झगड़ा चल रहा था और उसकी पत्नी मकान के ऊपरी हिस्से में रहती थी जबकि आजाद मकान के निचले हिस्से में रहता था और बैटरी रिपेयरिंग का काम करता था. दूसरी तरफ वीरू चाय की दुकान चलाता था और उसके चार बच्चे हैं. फिलहाल पुलिस फरार आरोपी आजाद की तलाश कर रही है.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पीड़ितों को ख्याला के गुरु गोविंद सिंह अस्पताल ले जाया गया जहां सुनीता को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि उसके पति और बेटे की हालत गंभीर बताई जा रही है.

पुलिस ने कहा कि वह झगड़े के कारण की जांच कर रही है और इसकी भी तफ्तीश कर रही है कि क्या उनके बीच पहले भी झगड़ा हुआ था. पुलिस ने कहा कि घटना के परिणामों के डर से आजाद के परिवार ने अपना घर छोड़ दिया है. पुलिस ने बताया कि परिवार ख्याला की डीडीए कॉलोनी में किराये पर रहता है और आरोपी उनका पड़ोसी है. अधिकारी ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है और आरोपी को पकड़ने के लिए दल गठित कर दिए गए हैं.