close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सोनीपत: ध्वजारोहण के बाद मनोहर लाल ने किया दावा, दोबारा हरियाणा में बनेगी BJP की सरकार

सीएम खट्टर ने कहा, जम्मू-कश्मीर और लद्धाख के केंद्र-शासित प्रदेश बनने से न सिर्फ कानून व्यवस्था की शीघ्र बहाली होगी बल्कि कश्मीरियों के लिए तरक्की और रोजगार के दरवाजे भी खुलेंगे.

सोनीपत: ध्वजारोहण के बाद मनोहर लाल ने किया दावा, दोबारा हरियाणा में बनेगी BJP की सरकार
मनोहर लाल खट्टर ने कहा, इस बार की आजादी का पर्व दोगुनी खुशी लेकर आया है.

सोनीपत: हरियाणा के सोनीपत में 15 अगस्त के कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से बात करते हुए मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि 5 साल तक उन्होंने झंडा फहराया है और ये आखिरी नहीं है. जनता का आशीर्वाद उन्हें दोबारा मिलेगा और फिर से उनकी सरकार बनेगी और वह फिर से झंडा फहराएंगे.

उनकी सरकार हमेशा से विकास के पथ पर अग्रसर रही है और इसी वजह से लोगों का आशीर्वाद मिलता रहा है. सोनीपत में कार्यक्रम के दौरान कमांडो ने मोटरसाइकिल पर अद्भुत करतब कर के दिखाए जिससे प्रभावित होकर मुख्यमंत्री ने कमांडो के साथ मोटरसाइकिल पर बैठकर सवारी भी की. ध्वजारोहण के बाद जनता को संबोधित करते हुए मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि शहीदों और स्वतंत्रता सेनानियों के अमूल्य बलिदान और तपोबल से हासिल ये आजादी हमें प्राणों से भी प्यारी है और ज्ञात - अज्ञात सभी शहीदों को अपनी श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूं.

उन्होंने कहा, इस बार की आजादी का पर्व दोगुनी खुशी लेकर आया है. जम्मू -कश्मीर को धारा 370 और 35A से मुक्ति दिलाकर प्रधानमन्त्री मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने अदम्य साहस का परिचय दिया है. मैं इनका हरियाणा की जनता की तरफ से अभिनन्दन करता हूं. जनभावना का सम्मान करते हुए इस अनुछेद को समाप्त किया गया है, जो पिछले 70 साल से कश्मीर और भारत के जुड़ाव को सफल नहीं होने दे रहा था. स्वर्गीय सरदार पटेल के अधूरे सपने को पूरा करके हमारे केन्द्रीय नेतृत्व ने इस पुरानी पीर को हरने का काम किया है.

सीएम खट्टर ने कहा, जम्मू-कश्मीर और लद्धाख के केंद्र-शासित प्रदेश बनने से न सिर्फ कानून व्यवस्था की शीघ्र बहाली होगी बल्कि कश्मीरियों के लिए तरक्की और रोजगार के दरवाजे भी खुलेंगे. हमारी सरकार ने स्वतंत्रता सेनानियों और उनकी विधवाओं की मासिक पेंशन रु 25,000 की है. युद्ध में शहीद सैनिक परिवार के लिए अनुग्रह राशि को बढ़ाकर 50 लाख किया गया है. वीरगति को प्राप्त होने वाले शहीदों के परिवारों के आश्रितों को 292 सरकारी नौकरी दी जा चुकी है.

उन्होंने कहा, आज हरियाणा आर्थिक तरक्की की रफ्तार पकड़ चुका है. प्रदेश में हर नागरिक को अपना हक लेने के लिए किसी दबंग के दरवाजे नही जाना पड़ता. गरीब और आम आदमी भी तरक्की की राह में शामिल होने का सपना देख रहा है. सरकार का फायदा केवल दबंग लोग ही उठाएंगे इस संस्कृति को हमने खत्म किया है. किसान को ताकत मिली है, उनको लगता है कि उनकी चिंता करने वाली सरकार है. व्यापारियों का भी हरियाणा के सिस्टम पर विश्वास बढ़ा है और विदेशी कंपनियां हरियाणा में निवेश कर रही हैं.

हमारी G.D.P की विकास दर 8.5% है जो देश की विकास दर से भी ज्यादा है. हरियाणा निर्यात के मामले में पांचवे स्थान पर आ गया है. 'ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ की रैंकिंग में हम उत्तर भारत में नंबर एक पर हैं और पूरे भारत में नंबर 3 पर हैं. ‘हरियाणा एक हरियाणवी एक’ तथा ‘सबका साथ सबका विकास’ इस भावना से प्रदेश का नक्शा बदलने का काम किया है. हमने साफ नीयत से काम किया है, इससे सब क्षेत्रों में फर्क नजर आता है. फर्क साफ है क्योंकि हमारी नीयत साफ है हमारी सोच प्रगतिशील है. हमने राजनीति से ऊपर उठ कर प्रदेश में विकास कार्य किया है. प्रदेश में विकास करते हुए ये नही देखा कि ये क्षेत्र किसका है सबका समान विकास किया है. भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद पर लगाम लगाकर योग्यता के आधार पर युवाओं को नौकरी दी है.