close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हवाईअड्डे पर डायरी और अखबार खोला तो मिली कई देशों की मुद्राएं

दिल्ली हवाईअड्डे पर सुरक्षा में तैनात सीआईएसएफ ने एक नेपाली मूल के नागरिक को विदेशी मुद्रा की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया है, इसके व्यक्ति के पासे से जांच के दौरान लगभग 5 लाख 47 हजार रुपये की विदेशी मुद्राएं बरामद हुई है।

हवाईअड्डे पर डायरी और अखबार खोला तो मिली कई देशों की मुद्राएं
दिल्ली हवाईअड्डेे पर विदेशी मुद्रा की तस्करी का मामला पकड़ा गया (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली हवाईअड्डे पर सुरक्षा में तैनात सीआईएसएफ ने एक नेपाली मूल के नागरिक को विदेशी मुद्रा की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया है, इस व्यक्ति के पासे से जांच के दौरान लगभग 5 लाख 47 हजार रुपये की विदेशी मुद्राएं बरामद हुई हैैं। इस व्यक्ति ने ये पैसे डायरी और अखबारों में लपेट कर छुपा रखे थे. 

यात्री की संदिग्ध गतिविधि पर हुआ शक 
दिल्ली हवाईअड्उे के टर्मिनल 3 के पास सीआईएसएफ के सतर्कता विभाग के जवानों को एक व्यक्ति की गतिविधियां संदिग्ध लगीं. उन्होंने संदेह के आधार पर इसे रोक कर पूछताछ करने का निर्णय लिया. पूछताछ करने पर यह व्यक्ति घबरा गया. पूछताछ में उसने अपना नाम महेंद्र पसाद श्रेष्ठ बताया. उसने बताया कि वह दिल्ली हवाईअड्डे से से बैंगकॉक जाने वाली जेट एयरवेज की उड़ान के लिए आया था. 

ये भी पढ़ें : अब इन एयरपोर्ट पर चेक इन करना होगा आसान, हैंड बैग पर नहीं लगाए जाएंगे टैग

बैग में मिली विदेशी मुद्रा 
सीआईएसएफ के कर्मियों ने जब इस यात्री के सामान की एक्सरे मशीन से जांच की तो उन्हें बैग में कुछ संदिग्ध वस्तु दिखाई दी. उन्होंने यात्री से बैग खोल कर दिखाने को कहा. जब यात्री ने बैग खोला तो बैग में डायरी , अखबार व पर्स मिला. इन्हें खोल कर देखने पर पता चला कि अखबार में कुछ विदेशी मुद्रा छुपाई गई थी , कुछ डायरी में रखी गई थी. ये विदेशी मुद्रा कई देशों की थी. भारतीय रुपये में इन मुद्राओं का कुल मूल्य लगभग 5 लाख 47 हजार रुपये था. 

देशी मुद्रा के संबंध में नहीं मिले कोई दस्तावेज 
सीआईएसएफ ने यात्री से पूछा की वह ये विदेशी मुद्राएं कहां से लाया है तो वह कुछ बता नहीं सका. ऐसे में सीआईएसएफ के जवानों ने इन मुद्राओं के संबंध में कोई वैध दस्तावेज पेश करने को कहा. यह यात्री कोई दस्तावेज भी उपलब्ध नहीं करा सका. ऐसे में इस यात्री को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए कस्टम विभाग के अधिकारियों को सौंप दिया, कस्टम विभाग ने पैसे को जब्त कर मामला दर्ज कर लिया है।