राहुल बोले- 'मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं, राहुल गांधी है, मैं माफी नहीं मांगूंगा'

रैली में राहुल गांधी, सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह, प्रियंका गांधी वाड्रा समेत पार्टी के सभी वरिष्ट नेता भाग ले रहे हैं.   

राहुल बोले- 'मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं, राहुल गांधी है, मैं माफी नहीं मांगूंगा'
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी

नई दिल्ली: कांग्रेस (congress) ने दिल्ली के रामलीला मैदान (Ramlila Maidan) में भारत बचाओ रैली का आयोजन किया है. इस रैली में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह, प्रियंका गांधी वाड्रा समेत पार्टी के सभी वरिष्ट नेता भाग ले रहे हैं. 

राहुल गांधी ने इस रैली में कहा, 'बीजेपी ने मुझसे कहा कि अपने भाषण के लिए माफी मांगे लेकिन मेरा नाम राहुल सावरकर नही हैं मेरा नाम राहुल गांधी हैं मैं माफी नहीं मांगूंगा.' उन्होंने कहा, 'माफी तो नरेंद्र मोदी और अमित शाह को देश से मांगनी चाहिए.'  बता दें बीजेपी ने मांग की है कि राहुल गांधी रेप कैपिटल के बयान पर माफी मांगे.

राहुल ने नोटबंदी का मुद्दा उठाते हुए कहा, 'मोदी जी ने आपसे झूठ कहा कि काले धन के खिलाफ लड़ाई लड़नी है, आम लोगों की जेब से पैसा नहीं निकाला और अडानी और अनिल अंबानी को दे दिया.'

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, 'किसी भी व्यक्ति, समाज और देश की जिंदगी में कभी-कभी ऐसा वक्त आता है कि उसे इस पार या उस पार का फैसला लेना पड़ता है. आज वही वक्त आ गया है, देश को बचाना है तो हमें कठोर संघर्ष करना होगा.'

रैली को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने कहा, भारत को बचाने के लिए आज देशभर से लोग जुटे हैं. प्रियंका गांधी ने कहा, 'हर बस स्टॉप, हर अखबार पर दिखता है, मोदी है तो मुमकिन है. सच यह है कि बीजेपी है 100 किलो की प्याज मुमकिन है, बीजेपी है तो 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी मुमकिन है. बीजेपी है तो 4 नौकरियां खत्म हो जाना मुमकिन है.बीजेपी है तो 15 हजार किसानों की आत्महत्या मुमकिन है. ' 

उन्होंने कहा, बीजेपी है तो ऐसे कानून बन रहे हैं जो हमारे संविधान के खिलाफ हैं, ऐसे कानून जिनकी विभाजनकारी नीयत से देश का कानून खतरे में हैं. प्रियंका ने कहा, मैं इस देश के हर नागरिक से कहना चाहती हूं, अपनी आवाज बुलंद करो. आप इस देश को प्यार करते हैं, इसकी आवाज बने.' उन्होंने कहा, अगर हमने आवाज नहीं उठाई, 
अगर खामोश रहे तो हमारा संविधान खत्म हो जाएगा.