कोरोना वायरस: लॉकडाउन और कर्फ्यू का दिखा असर, दिल्ली में दिखने लगे नीले आसमान, हवा हुई साफ

विश्व मौसम विज्ञान संगठन (डब्ल्यूएमओ) द्वारा किए गए अध्ययनों से यह पता चला है कि चीन और इटली में लॉकडाउन के दौरान नाइट्रोजन डाइऑक्साइड का स्तर काफी कम हो गया.

कोरोना वायरस: लॉकडाउन और कर्फ्यू का दिखा असर, दिल्ली में दिखने लगे नीले आसमान, हवा हुई साफ
(प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली: देश में लॉकडाउन, कर्फ्यू और कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कठोर उपायों को लागू करने के परिणामस्वरूप स्थानीय स्तर पर वायु की गुणवत्ता में काफी सुधार देखने को मिला है.अधिकतर उद्योग बंद के कारण कामकाजी लोग अपने घर के अंदर हैं और वाहनों के सड़कों पर बहुत कम होने से राष्ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता सूचकांक में भारी सुधार हुआ है. सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड फोरकास्टिंग एंड रिसर्च के अनुसार, दिल्ली में पीएम 2.5 और पीएम 10, दोनों प्रदूषक संतोषजनक श्रेणी में हैं और क्रमश: 52 और 92 पर हैं.

वायु गुणवत्ता में सुधार आने का मुख्य कारण सरकार द्वारा देश में लागू किया गया एक दिवसीय जनता कर्फ्यू और जिसके बाद कई इलाकों में पूरी तरह का लॉकडाउन है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, "हवा की गुणवत्ता जल्द ही 'अच्छी' श्रेणी में आने की संभावना है. यह वाहनों के यातायात में कमी और तापमान में वृद्धि के कारण है."

यह भी देखें:-

विश्व मौसम विज्ञान संगठन (डब्ल्यूएमओ) द्वारा किए गए अध्ययनों से यह पता चला है कि चीन और इटली में लॉकडाउन के दौरान नाइट्रोजन डाइऑक्साइड का स्तर काफी कम हो गया.