पुलिस ने शातिर बदमाश अरशद उर्फ राणा को दबोचा, 4 राज्यों की पुलिस को थी तलाश

पकड़े जाने से पहले राणा ने भागने की कोशिश भी की और पुलिस पर अपनी 32 बोर की रिवाल्वर से गोली चलाने की धमकी भी दी, लेकिन पुलिस ने उसे दबोच लिया.

पुलिस ने शातिर बदमाश अरशद उर्फ राणा को दबोचा, 4 राज्यों की पुलिस को थी तलाश
अरशद उर्फ राणा पर उत्तर प्रदेश और दिल्ली की पुलिस ने 50-50 हजार और मध्य प्रदेश की पुलिस ने 25 हजार का इनाम रखा था.

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने मेवात के शातिर अपराधी अरशद उर्फ राणा को बदरपुर बार्ड इलाके से गिरफ्तार किया है. पकड़े जाने से पहले राणा ने भागने की कोशिश भी की और पुलिस पर अपनी 32 बोर की रिवाल्वर से गोली चलाने की धमकी भी दी, लेकिन पुलिस ने राणा को दबोच लिया. राणा को चार राज्यों की पुलिस तलाश रही थी. उसके सर पर सवा लाख का इनाम था और दिल्ली पुलिस ने उसके खिलाफ मकोका के तहत केस दर्ज किया हुआ था. वो इतना शातिर था कि डेढ़ साल पहले मथुरा के पास मध्य प्रदेश पुलिस की गिरफ्त में भाग निकला था.  

पुलिस के मुताबिक अरशद उर्फ राणा एक शातिर अपराधी है. इसके खिलाफ दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और हरियाणा में फिरौती के लिए अपहरण, डकैती, दंगा फसाद और लूट के कई मामले दर्ज हैं. मध्यप्रदेश पुलिस ने इसे गिरफ्तार भी किया था लेकिन ये पुलिस की पूरी टीम को गच्चा देकर मथुरा के पास से उनके कब्जे से फरार हो गया था. उस वक्त पुलिस की टीम उसे लेकर कोर्ट जा रही थी. 

अरशद उर्फ राणा पर उत्तर प्रदेश और दिल्ली की पुलिस ने 50-50 हजार और मध्य प्रदेश की पुलिस ने 25 हजार का इनाम रखा था. अरशद खान पहले मेवात के कुख्यात बदमाश सल्ली खान के लिए काम करता था लेकिन बाद में अरशद ने अपना गैंग बना लिया. 

दिल्ली पुलिस ने 2011 और 2012 में सल्ली खान समेत उसके गैंग के 17 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया था. तब पता लगा था कि ये कितने खतरनाक बदमाश हैं. पुलिस के मुताबिक किसी भी अपराध को करने से पहले ये बड़ी गाड़ी लूटते थे, फिर उस लूबट की गाड़ी से अपराध को अंजाम देते थे. पुलिस ने तब पूरे गैंग के खिलाफ मकोका लगाया था. फरार होने के बाद अरशद लगातार पुलिस को डेढ़ साल से चकमा दे रहा था, लेकिन दिल्ली पुलिस ने उसे उस वक्त दबोचा जब वो अपने एक साथी से मिलने बदरपुर जा रहा था.