धारा 370 निरस्त करने के प्रस्ताव पर केजरीवाल का समर्थन, कुमार विश्वास ने ऐसे ली चुटकी
X

धारा 370 निरस्त करने के प्रस्ताव पर केजरीवाल का समर्थन, कुमार विश्वास ने ऐसे ली चुटकी

सीएम केजरीवाल ने कहा हम जम्मू-कश्मीर पर इसके फैसलों पर सरकार का समर्थन करते हैं. हमें उम्मीद है कि यह राज्य में शांति और विकास लाएगा.

धारा 370 निरस्त करने के प्रस्ताव पर केजरीवाल का समर्थन, कुमार विश्वास ने ऐसे ली चुटकी

नई दिल्लीः जम्मू कश्मीर से धारा 370 को खत्म करने के लिए गृहमंत्री अमित शाह ने संसद में प्रस्ताव पेश कर दिया है. साथ ही आर्टिकल 35ए को हटा दिया गया है. संसद में इस प्रस्ताव के आने के बाद विपक्ष लगातार विरोध कर रही है. हालांकि, कुछ विपक्ष पार्टियों ने धारा 370 को निरस्त करने का समर्थन किया है. जिसमें आम आदमी पार्टी भी शामिल हो गई है.

आम आदमी पार्टी केंद्र सरकार की धुर विरोधी है. लेकिन पार्टी ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 को खत्म करने के प्रस्ताव पर समर्थन किया है. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया है. वहीं, एसपी और बीएसपी पार्टियों ने भी प्रस्ताव का समर्थन किया है.

आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर इस प्रस्ताव का समर्थन किया है. लेकिन उनके समर्थन पर कुमार विश्वास ने तंज कसा है. उन्होंने अरविंद केजरीवाल का नाम लिए बिना उनके समर्थन पर चुटकी ली है.

सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर लिखा, 'हम जम्मू-कश्मीर पर इसके फैसलों पर सरकार का समर्थन करते हैं. हमें उम्मीद है कि यह राज्य में शांति और विकास लाएगा.'

वहीं, कुमार विश्वास ने ट्वीट कर अरविंद केजरीवाल पर चुटकी ली है. उन्होंने लिखा है कि, 'दिल पर चट्टान रख कर ट्वीट कर रहे हो ना बौने? हमने जब सेना के समर्थन में वीडियो बनाया तब तो अपने घर पर पालित अमानती कुत्तों से हमको घेर कर मारने की कह रहे थे, अब क्या हुआ? चादर फटी तो प्रसाद लूटने आ गए सबूत माँगने वाले?इतिहास का कूड़ेदान हर दग़ाबाज़ देशद्रोही की प्रतीक्षा में है.'

कुमार विश्वास ने इसके बाद एक और ट्वीट किया और लिखा, 'अपनी यूनियन टैरिटरी को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने के असंभव ख़्वाब देखने वाले आत्ममुग्ध बौने को भी एक पूर्ण राज्य के यूनियन टैरिटरी में बदलने के प्रस्ताव का समर्थन करना पड़ रहा है, इसी को “खुदाई-जूता” कहते हैं जो लगता भी है और रोने भी नहीं देता, चलो जलेबी खाओ.'

आपको बता दें कि अरविंद केजरीवाल दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने के लिए लगातार मांग कर रहे हैं. उन्होंने कई बार इसके लिए केंद्र सरकार से बात की लेकिन उन्हें इसमें कोई सफलता नहीं मिली है.

Trending news