दिल्ली: CAA के खिलाफ जामिया के बाद जाफराबाद में हिंसक प्रदर्शन, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस

 हजारों लोग बैनर और झंडे हाथ में लेकर सड़क पर उतर आए हैं. स्थिति न बिगड़े इसलिए पुलिस फोर्स भी मौके पर मौजूद है.

दिल्ली: CAA के खिलाफ जामिया के बाद जाफराबाद में हिंसक प्रदर्शन, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के खिलाफ और  जामिया में हुई घटना के बाद अब नार्थ ईस्ट दिल्ली के जाफराबाद में भी आंदोलन तेज हो गया है. हजारों लोग सड़कों पर उतर गए हैं और विधेयक के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं. हजारों लोग बैनर और झंडे हाथ में लेकर सड़क पर उतर आए हैं. स्थिति न बिगड़े इसलिए पुलिस फोर्स भी मौके पर मौजूद है. 

दोपहर करीब दो बजे यहां लोगों की संख्या बढ़ गई और लोग लगातार नारेबाजी कर रहे थे. लोग जामिया तुम संघर्ष करो हम तु्म्हारे साथ हैं के नारे लगा रहे थे. अचानक भीड़ उग्र हो गई और पुलिस पर पथराव करने लगी. इतना ही नहीं उग्र प्रदर्शनकारियों ने स्कूल बस पर भी पथराव किया. इस स्थिति में पुलिस को लाठीचार्च करना पड़ा. भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस भी छोड़ा. 

जॉइन्ट सीपी ईस्टर्न रेंज आलोक कुमार ने कहा कि आज दोपहर जाफराबाद में करीब दो हजार लोग इकट्ठा हो गए थे. प्रदर्शनकारियों ने  सीलमपुर T पॉइंट से जाफराबाद T पॉइंट के बीच पथराव किया आगजनी भी की है. गाड़ियों में तोड़फोड़ भी हुई है. आलोक कुमार ने कहा कि पथराव में हमारे दो पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं. मौके पर फोर्स तैनात है.

प्रदर्शन के कारण जाफराबाद और सीलमपुर के आस-पास के कई इलाकों में भारी ट्रैफिक जाम हो गया है. तनाव के चलते 7 मेट्रोस्टेशन बंद कर दिए गए हैं. पिंक लाइन के जाफराबाद, मौजपुर और बाबरपुर पर एंट्री और एग्जिट बंद हैं. रेड लाइन के सीलमपुर और वेलकम मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया है. दरियागंज से दिल्ली गेट की तरफ आने जाने वाले रोड पर भारी जाम लगा हुआ है. 

आपको बता दें कि नागरिकता संशोधन विधेयक (CAA) के खिलाफ जामिया में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए आरोपियों में से एक भी स्टूडेंट नहीं है. सभी आरोपी क्रिमिनल बैकग्राउंड के लोग है और इनमे से 3 तो ऐसे लोग हैं जो इलाके के बीसी यानि बैड करेक्टर घोषित हैं.