बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए स्कूल में बनाया गया था हाइड्रोथेरपी पूल, डूबने से दिव्यांग बच्चे की मौत

कोलकाता पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ठाकुरपुकुर निवासी बच्चे का शव दोपहर एक बजकर पांच मिनट पर पूल में तैरता हुआ मिला.

बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए स्कूल में बनाया गया था हाइड्रोथेरपी पूल, डूबने से दिव्यांग बच्चे की मौत

कोलकाता : ईस्टर्न कमान आर्मी वाइव्स वेलफेयर एसोसिएएशन द्वारा दिव्यांग बच्चों के लिए संचालित एक स्कूल के हाइड्रोथेरपी पूल में डूबने से बुधवार को पांच वर्षीय बच्चे की मौत हो गई. रक्षा विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि ऑटिज्म से पीड़ित बच्चे की स्कूल के पूल में डूबने से मौत हो गई. कोलकाता पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ठाकुरपुकुर निवासी बच्चे का शव दोपहर एक बजकर पांच मिनट पर पूल में तैरता हुआ मिला.

अलीपुर के कमान अस्पताल में परिसर में है स्कूल
उन्होंने कहा कि बच्चे के माता-पिता से मिली शिकायत के आधार पर हमने जांच शुरू कर दी है.अधिकारी ने कहा कि आशा स्कूल यहां अलीपुर के कमान अस्पताल परिसर में स्थित है. 

क्या होती है हाइड्रोथेरेपी
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हाइड्रोथेरेपी पानी का उपयोग है, दोनों आंतरिक और बाह्य रूप से और अलग-अलग तापमान पर, स्वास्थ्य प्रयोजनों के लिए किया जाता है. हाइड्रोथेरेपी में सौना, स्टीम बाथ, फुट बाथ, कंट्रास्ट थेरेपी, हॉट एंड कोल्ड शॉवर्स और वाटर थेरेपी जैसे उपचार शामिल हैं.

(इनपुटःभाषा)