चंद्रबाबू नायडू ने केंद्र पर साधा निशाना- क्या आपको लगता है तेलुगू लोगों में मर्दानगी नहीं है

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू ने शुक्रवार को केंद्र पर निशाना साधा और कहा कि क्या उन्हें लगता है कि तेलुगू लोगों में मर्दानगी नहीं है.

चंद्रबाबू नायडू ने केंद्र पर साधा निशाना- क्या आपको लगता है तेलुगू लोगों में मर्दानगी नहीं है
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू.(फाइल फोटो)

अमरावती: आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू ने शुक्रवार को केंद्र पर निशाना साधा और कहा कि क्या उन्हें लगता है कि तेलुगू लोगों में मर्दानगी नहीं है. केंद्र द्वारा विशेष श्रेणी का दर्जा देने सहित राज्य से किए गए वादों को पूरा नहीं किए जाने पर विधानसभा में गुस्से भरे लहजे में नायडू ने कहा, "क्या आपको लगता है कि तेलुगू लोगों में मर्दानगी नहीं है?" नायडू ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता विष्णु कुमार राजू के दावे पर भी हमला बोला . राजू ने दावा किया था कि मोदी सरकार ने राज्य के लिए अपने किए वादों से कहीं अधिक कार्य किया है.

टीडीपी अध्यक्ष नायडू ने राजू को चुनौती दी कि वे दिखाए कि केंद्र ने राज्य को क्या दिया है. उन्होंने भाजपा नेता से आंध्र प्रदेश को मुहैया कराई गई सहायता की तुलना गुजरात व अन्य राज्यों को दिए गए फंडों से करने को कहा. मुख्यमंत्री ने भाजपा नेता को बताया कि वह जन प्रतिनिधि बनने के लायक नहीं हैं.

राज्य के प्रति केंद्र के 'अन्यायपूर्ण रवैये' के विरोध में काली शर्ट पहनकर विधानसभा पहुंचे नायडू ने न्याय की लड़ाई जारी रखने का संकल्प लिया.टीडीपी  प्रमुख ने चेतावनी दी, "हम आराम नहीं करने वाले. हम भाजपा नेताओं को हिलने तक नहीं देंगे." उन्होंने भाजपा शासन के दौरान दक्षिण भारत द्वारा हासिल उपलब्धियों के बारे में जानना चाहा.

नायडू ने कहा कि एम. वैंकेया नायडू दक्षिण से केंद्रीय मंत्री थे, लेकिन उनकी नाराजगी के कारण उन्हें उपराष्ट्रपति बना दिया गया. उन्होंने कहा, "केवल भगवान जानता है कि उनके लिए यह पदोन्नति थी या सजा."

इनपुट भाषा से भी