close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह झाला होंगे बीजेपी में शामिल, बोले - कांग्रेस में मुझे सिर्फ मानसिक तनाव मिला

ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर और उनके साथी विधायक धवल सिंह झाला जल्द ही बीजेपी में शामिल होंगे. गुजरात क्षत्रिय ठाकोर सेना के प्रमुख अमित ठाकोर ने सोमवार को यह जानकारी दी.

अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह झाला होंगे बीजेपी में शामिल, बोले - कांग्रेस में मुझे सिर्फ मानसिक तनाव मिला
ठाकोर और झाला ने गुजरात में 5 जुलाई को हुए राज्यसभा उपचुनाव में बीजेपी के लिए क्रॉस वोटिंग की थी.

अहमदाबाद: ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर और उनके साथी विधायक धवल सिंह झाला जल्द ही बीजेपी में शामिल होंगे. गुजरात क्षत्रिय ठाकोर सेना के प्रमुख अमित ठाकोर ने सोमवार को यह जानकारी दी. अमित ठाकोर ने आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह झाला (पूर्व कांग्रेस नेता) जल्द ही बीजेपी में शामिल होंगे. हम बीजेपी की विचारधारा में विश्वास करते हैं." 

ठाकोर और झाला ने गुजरात में 5 जुलाई को हुए राज्यसभा उपचुनाव में बीजेपी के लिए क्रॉस वोटिंग की थी. दोनों ने इसके बाद कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था. राधनपुर सीट से विधायक अल्पेश ठाकोर ने कहा कि उन्होंने कांग्रेस द्वारा अपमानित और धोखा दिए जाने के बाद विधायक पद से इस्तीफा देने का निर्णय लिया है. 

उन्होंने कहा, "कांग्रेस में शामिल होने के बाद हमें हमेशा धोखा दिया गया. हमने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को बताया कि ईमानदार नेताओं की आवाज दबाई जा रही है. मैंने राहुल गांधी पर भरोसा करके कांग्रेस ज्वॉइन की थी लेकिन दुर्भाग्य से उन्होंने कुछ नहीं किया. हमारा बार-बार अपमान किया गया." 

अल्पेश ने कहा कि उन्होंने अपनी अंतरात्मा की आवाज के मुताबिक, राज्यसभा चुनाव में अपना वोट 'ईमान राष्ट्रीय नेतृत्व' को दिया था. उन्होंने कहा, "मैंने अपना वोट ईमान राष्ट्रीय नेतृत्व को दिया जो देश को नई ऊंचाई पर ले जाना चाहता है. मैंने अपना वोट अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर दिया. कांग्रेस में मुझे मानसिक तनाव के अलावा कुछ नहीं मिला. मैं अब तनाव से मुक्त हो गया हूं." 

उन्होंने आरोप लगाया कि वह कांग्रेस में रहने के दौरान प्रोप्रेगैंडा के शिकार हुए और अपने समुदाय के लिए कुछ खास नहीं कर सके. उन्होंने कहा, "मैं राजनीति में समुदाय के लोगों की सेवा के लिए आया था. मैं पिछले दो साल में उनके लिए कुछ नहीं कर पाया." 

गौरतलब है कि अल्पेश ठाकोर ने कुछ दिन पहले ही कांग्रेस कमेटी समित प्रभारी बिहार और अन्य पदों से इस्तीफा दिया था. लोकसभा चुनाव से पहले, 10 अप्रैल को ठाकोर ने कहा था कि वह बीजेपी में शामिल नहीं होंगे. उन्होंने यह भी कहा कि वह अपना कार्यकाल एक विधायक के तौर पर पूरा करेंगे. तब ठाकोर ने कहा था, "मैं बीजेपी ज्वॉइन नहीं करूंगा. मैंने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दिया है और एक विधायक के रूप में पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा करूंगा."