Zee Rozgar Samachar

Kashmir को मिला अपना पहला Podcast, कश्मीरी युवाओं की ऐसे हो रही मदद

म्यूजिक-स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म पर उपलब्ध पॉडकास्ट (Podcast) कश्मीर (Kashmir) के युवाओं की प्रतिभा को दुनिया के सामने रखता है. इसमें उन लोगों की कहानियां होती हैं जिन्होंने सफलता हासिल की है और अगली पीढ़ी को प्रेरित कर सकते हैं.

Kashmir को मिला अपना पहला Podcast, कश्मीरी युवाओं की ऐसे हो रही मदद

श्रीनगर: कश्मीर (Kashmir) का एक हुनरमंद रेडियो जॉकी उमर निसार कश्मीर में अपनी तरह का पहला पॉडकास्ट (Kashmir First Podcast) लेकर आया है, जो स्थानीय युवाओं को अपनी प्रतिभा के जरिए दुनिया से जुड़ने का एक मंच प्रदान कर रहा है.

कश्मीरी भाषा में मशक टॉक पॉडकास्ट (Podcast) डिजिटल ऑडियो या वीडियो फाइलों की एक एपिसोड सीरीज है. इसका उद्देश्य डिजिटल मीडिया के माध्यम से कश्मीरी युवाओं को दुनिया से जोड़ना है ताकि दुनियाभर में उनकी कामयाबी और हुनर कहानियां सुनी जा सकें.

म्यूजिक-स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म पर उपलब्ध पॉडकास्ट (Podcast) कश्मीर (Kashmir) के युवाओं की प्रतिभा को दुनिया के सामने रखता है. इसमें उन लोगों की कहानियां होती हैं जिन्होंने सफलता हासिल की है और अगली पीढ़ी को प्रेरित कर सकते हैं या खुद को एक ऊंचे स्थान पर ले जा सकते हैं.

VIDEO

ये भी पढ़ें- Farmer Protest: गृह मंत्री Amit Shah से मिलने पहुंचे कृषि मंत्री Narendra Tomar

मशक टॉक पॉडकास्ट (Podcast) के जरिए कश्मीर (Kashmir) को 'टेड टॉक्स' की तरह पेश करने की कोशिश है. इसको चलाने वाले कहते हैं कि हमने एक पॉडकास्ट (Podcast) शुरू किया, जिसके माध्यम से हम 100 सफल कश्मीरी युवाओं को सामने लाए और उनकी कहानियां दुनिया तक पहुंचाई. कश्मीर (Kashmir) में हुनर की कमी नहीं है लेकिन एक मंच की जरूरत है.

उन्होंने आगे कहा कि इस पॉडकास्ट (Podcast) का उद्देश्य घाटी के प्रतिभाशाली युवाओं को मंच दिलवाना है. यह कश्मीर (Kashmir) का पहला ऐसा प्लेटफॉर्म है. यह पॉडकास्ट (Podcast) युवाओं द्वारा बनाया गया है और युवाओं के लिए है. यह पॉडकास्ट (Podcast) कश्मीरी भाषा में चलाया जा रहा है ताकि यहां के युवाओं के साथ-साथ यहां की भाषा को भी प्रोत्साहन मिले. 

ये भी पढ़ें- CBSE, NEET और JEE के Exam साल 2021 में भी Postpone होंगे? जानिए नया अपडेट

मशक टॉक को शुरू करने वाले उमर नासिर ने कहा, 'एक बार मुझे टेड टॉक्स पर जाने का मौका मिला, तब मैंने सोचा जब मैं टेड टॉक्स पर आ सकता हूं तो कश्मीर (Kashmir) के अन्य युवा भी आ सकते हैं. कश्मीर (Kashmir) के युवाओं में बहुत टैलेंट है. इसीलिए मैंने कश्मीर (Kashmir) के लिए अपना टेड टॉक्स बनाया ताकि यहां का हुनर सामने आए.'

उमर नासिर ने आगे बताया कि पॉडकास्ट (Podcast) के डिजिटल माध्यम पर हम एक सीरीज कर रहे हैं, इसको अच्छा समर्थन मिल रहा है. सबसे बड़ी बात यह है कि कश्मीर (Kashmir) में पॉडकास्ट (Podcast) हो रहा है. अभी कश्मीर (Kashmir) में इसके जैसा कोई दूसरा टॉक शो नहीं हैं.

पॉडकास्ट (Podcast) पर कश्मीर (Kashmir) की मानी हुई फुटबॉल की खिलाड़ी नाहिदा ने कहा, 'मुझे यहां अपनी स्टोरी शेयर करने के लिए बुलाया गया. ये अच्छा प्लेटफॉर्म है, लोगों तक मेरी कहानी पहुंच रही है. इससे कश्मीर (Kashmir) के टैलेंट को फायदा मिल सकता है. अगर किसी को किसी चीज की जरूरत है तो वो इसके जरिए अपनी बात प्रशासन तक पहुंचा सकता है.'

उम्मीद है कि यह पॉडकास्ट (Podcast) अपना एक मुकाम बनाकर कश्मीर (Kashmir) के गावों व शहरों में छुपे यहां के हुनर को सामने लेकर आएगा और उन्हें एक मंच देगा ताकि वो आगे बढ़ सकें.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.