close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पुलिस के हत्थे चढ़ा रेपिस्ट गैंग, 3 साल में कर चुके हैं 60 से ज्यादा गैंगरेप, प्रेमी जोड़ों को बनाते थे शिकार

बैतूल पुलिस ने एक रेपिस्ट गैंग का खुलासा किया है. यह गैंग बीते तीन सालों में 60 से ज्यादा लड़कियों को अपना शिकार बना चुका है. गैंग शहर से बाहर घूमने जाने वाले प्रेमी जोड़ों को अपना शिकार बनाता था.

पुलिस के हत्थे चढ़ा रेपिस्ट गैंग, 3 साल में कर चुके हैं 60 से ज्यादा गैंगरेप, प्रेमी जोड़ों को बनाते थे शिकार
यह गैंग बीते तीन सालों में 60 से ज्यादा युवतियों को अपनी हवस का शिकार बना चुका है.

(इरशाद हिंदुस्तानी)/बैतूलः मध्य प्रदेश के बैतूल पुलिस ने एक रेपिस्ट गैंग का खुलासा किया है. यह गैंग बीते तीन सालों में 60 से ज्यादा लड़कियों को अपना शिकार बना चुका है. गैंग शहर से बाहर घूमने जाने वाले प्रेमी जोड़ों को अपना शिकार बनाता था. एक युवती की शिकायत के बाद इस शर्मनाक कारनामे का खुलासा कोतवाली पुलिस ने किया है. पकड़े गए गिरोह के सात आरोपियों को पुलिस ने देशी कट्टा ,तलवार और दूसरे हथियारों के साथ गिरफ्तार किया  है. दरअसल, कई दिनों से पुलिस को जानकारी मिल रही थी, कि सारणी रानीपुर रोड की तरफ एक गिरोह चिखलार झरने और सिहारी के जंगल में सुनसान जगह पर जाने वाले प्रेमी जोड़ों के साथ लूट पाट करता है. यह गैंग जोड़ो के साथ जाने वाली लड़कियों से रेप की वारदातों को भी अंजाम देता है. 

वहीं बदनामी के डर से कोई भी इसकी पुलिस को शिकायत नही करता है, लेकिन बीते 06 सितम्बर को एक युवती ने थाने पर शिकायत की थी कि 04 सितम्बर को जब वह अपने दोस्त के साथ बुलेरो गाड़ी से रानीपुर रोड की तरफ गए थे तब चिखलार के जंगल में रोड किनारे चार अंजान लोग कट्टे की नोंक पर दोनों को ग्राम सिहारी के जंगल में ले गए. यहां इन लोगों ने दोनों के साथ लूट पाट कर 1000 रुपए और पर्स छीन लिया. वहीं इसके बाद इन लोगों ने युवती के साथ बलात्कार करने की कोशिश भी की. जिसके बाद वह वहां से किसी तरह बच निकले.

यह भी देखें

वहीं रविवार की रात पुलिस को मुखबिर से जानकारी मिली कि सोनाघाटी के पास शारदा दरवार मंदिर समाधि स्थल पर 6, 7 हथियार बंद बदमाश चक्कर रोड पर किसी संम्पन्न व्यक्ति के घर डकैती डालने की योजना बना रहे हैं. जिस पर कोतवाली पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर आरोपीगणों को पकड़ा एवं उनके कब्जे से देशी पिस्टल और 2 जिन्दा कारतूस, तलवार , लाठी, लोहे की रॉड, बेस बॉल बैट, मिर्च पाउडर और बका जप्त किया. आरोपीयों के खिलाफ धारा 399, 402, और 25, 27 आर्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है. आरोपियों से पूछताछ की गई तो आरोपी अमर पिता किशोरी उईके, गोलू उर्फ जगदीश पिता बाबूलाल यादव ने 04 सितम्बर को अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर युवक-युवती के साथ लूटपाट और महिलाओं के साथ रेप की घटना को अंजाम देना स्वीकार किया है.

Betul police caught rapist gang, have done more than 60 rapes in 3 years

दिल्ली में दबोचा गया तैराक से छेड़छाड़ करने वाला स्विमिंग कोच, गोवा ले जाएगी पुलिस

गिरफ्तार आरोपियो में अमर पिता किशोरी उईके 33 साल, गजानंद पिता मधू उईके 22 साल, मंगल उर्फ माईकल पिता नन्हे सिंह उईके 34 साल, संतोष उर्फ गब्बर पिता संतू धुर्वे 19 साल और मनीष पिता मंधु उईके शामिल हैं. ये सभी आरोपी चिखलार गांव के रहने वाले हैं. इसके अलावा दिलीप उर्फ संतोष पिता गोकुल सलाम 27 साल निवासी बड मोहल्ला चिखली आमढाना और गोलू उर्फ जगदीश पिता बाबूलाल यादव 36 साल निवासी नागदेव मंदिर के पास गौली मोहल्ला टिकारी बैतूल शामिल हैं.